fixed Rafale Deal With India

भारत-फ्रांस के बीच राफेल फाइटर प्लेन सौदे पर लगी मुहर

भारत-फ्रांस के बीच राफेल फाइटर प्लेन सौदे पर लगी मुहर

दिल्ली: आनेवाले दिनों में भारतीय वायुसेना की ताकत और बढ़ेगी। भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल लड़ाकू विमान के सौदे को मंजूरी मिल गई है। शुक्रवार को भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और फ्रांस के रक्षा मंत्री ज्यं यीव ली ड्रियान ने इस समझौते पर हस्ताक्षर किये। दोनों देशों के बीच हुआ ये समझौता 7.8 मिलियन यूरो का है।

तकरीबन डेढ़ साल पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रांस दौरे के वक्त 36 राफेल विमान खरीदने की बात कही थी। राफेल लड़ाकू विमान को फ्रांस की डसाल्ट एविएशन कंपनी बनाती है। ये सभी 36 राफेल लड़ाकू विमान सीधे फ्रांस से आएंगे।

सुरक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक राफेल सौदे पर अरबों रुपया खर्च किया जाएगा। फ्रांस और भारत के बीच इसकी कीमत को लेकर काफी मोलभाव भी हुआ। जिसके बाद फ्रांस इसे 7.8 यूरो में देने को राजी हुआ है। भारतीय करेंसी के मुताबिक ये रकम तकरीबन 59 हजार करोड़ होगा। यानि एक राफेल की कीमत हथियार सहित 1600 करोड़ रुपये होगी।

भारत और फ्रांस के बीच राफेल विमान का सौदा तो हो गया है। लेकिन वायुसेना को इस विमान को अपने बेड़े में शामिल करने के लिए अभी तीन साल का इंतजार करना होगा। भारत को राफेल विमान 2019 से मिलना शुरु होगा।

Loading...

Leave a Reply