सेना की अपील- कश्मीरी माता-पिता आतंकी बच्चों से सरेंडर करने कहें, वर्ना मारे जाएंगे

जम्मू-कश्मीर:  पुलवामा हमले के बाद सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस की साझा प्रेस कांफ्रेंस हुई। जिसमें सीआरपीएफ के आईजी लेफ्टिनेंट जनरल कंवलजीत सिंह ढिल्लों ने आतंक के रास्ते पर चल चुके युवकों के माता-पिता से बहुत बड़ी अपील की है। उन्होंने कहा कि वैसे माता-पिता जिनके बच्चे आतंकी बन चुके हैं वो उनसे सरेंडर करवाएं। अगर वो सरेंडर नहीं करते हैं तो वो मारे जाएंगे।

प्रेस कांफ्रेंस की शुरुआत में हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी गई और उनके साहस को सलाम किया गया। कंवलजीत सिंह ढिल्लों ने कहा कि हमने पुलवामा हमले के 100 घंटे के भीतर ही आतंकियों को मार गिराया। इस मुठभेड़ में जैश के तीन कमांडर ढेर हुए हैं।

उन्होंने कहा कि जैश ने पाकिस्तानी सेना के इशारे पर हमला किया। उन्होंने साफ किया कि जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तानी सेना का बच्चा है। आईएसआई के निर्देश पर जैश काम करती है। पुलवामा हमले में आतंकियों को आईएसआई से निर्देश मिल रहे थे।

हलांकि इस हमले में और कौन-कौन शामिल है और क्या प्लानिंग थी इस बारे में उन्होंने ज्यादा जानकारी देने से इनकार कर दिया। उनका कहना था कि इसकी जांच जल रही है और इस बारे में फिलहाल जानकारी नहीं दी जा सकती।

सीआरपीएफ के आईजी ने कहा जम्मू-कश्मीर की माताएं अपने बच्चों से आतंक का रास्ता छोड़कर मुख्य धारा में लौटने को कहें। अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। हम उन्हें मार गिराएंगे। उन्होंने कहा सरेंडर करनेवालों के लिए हमारे पास कई तरह की योजनाएं हैं। लेकिन जो आतंक के रास्ते पर चलेंगे उनके लिए किसी तरह की रहम नहीं की जाएगी।

(Visited 47 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *