पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड गाजी को सुरक्षाबलों ने घेरा

पुलवामा:  पुलवामा हमले में सीआरपीएफ जवानों पर हुए आत्मघाती हमले के मास्टरमाइंड गाजी रशीद को सुरक्षाबलों ने घेर लिया है। सुरक्षाबलों ने उसे पुलवामा के पिंगलिना इलाके में घेरा है। गाजी रशीद जैश-ए-मोहम्मद का आईईडी एक्सपर्ट है। साथ ही वो हथियार चलाने में भी काफी एक्सपर्ट माना जाता है। गाजी रशीद मसूद अजहर का भी करीबी है। और उसी गाजी रशीद ने पुलवामा हमले की रूपरेखा तैयार की थी।

सुरक्षाबलों ने अब उस घर को घेर लिया है जिसके भीतर गाजी रशीद छिपा हुआ है। गाजी रशीद के साथ और दो-तीन आतंकी घर में छिपे हो सकते हैं। रात के 12 बजे से ही सुरक्षाबलों और गाजी रशीद के बीच मुठभेड़ चल रही है। इस मुठभेड़ में राष्ट्रीय रायफल के मेजर समेत तीन जवान शहीद हो गए हैं।

जानकारी मिली है कि इस ऑपरेशन में 55 राष्ट्रीय रायफल, सीआरपीएफ और एसओजी के जवान शामिल हैं। जो जवान मुठभेड़ में शहीद हुए हैं उसमें मेजर डीएस डोंडियाल, हेड कांस्टेबल सेवा राम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरी सिंह शामिल हैं। एक जवान घायल भी है जिसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

जैश सरगना मसूद अजहर अपने भतीजे के जरिये घाटी में आतंकी वारदातों को अंजाम देता था। लेकिन पिछले साल ऑपरेशन ऑल आउट के दौरान उसके भतीजे को सुरक्षाबलों ने मार गिराया। उसके बाद मसूद अजहर ने कश्मीर की जिम्मेदारी अपने टॉप कमांडर और आईईडी एक्सपर्ट गाजी रशीद को दे दी।

माना जा रहा है गाजी अपने दो सहयोगियों के साथ दिसंबर में भारत में घुसा और दक्षिण कश्मीर में छिप गया। गाजी मौलाना मसूद अजहर का भरोसेमंद और करीबी है। गाजी 2008 में आतंकी संगठन जैश में शामिल हुआ। उसने तालिबान में ट्रेनिंग ली है। 2010 में वो वजीरिस्तान आ गया उस वक्त से ही वो आतंकी की दुनिया में शामिल है। उसने पीओके में युवा लड़कों को बरगला कर उन्हें आतंकी ट्रेनिंग भी दी है।

(Visited 85 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *