‘टाइगर जिंदा है’ के विरोध में तोड़फोड़ जलाए गए पोस्टर

‘टाइगर जिंदा है’ के विरोध में तोड़फोड़ जलाए गए पोस्टर

नई दिल्ली:  सलमान की फिल्म ‘टाइगर जिंदा है’ का विरोध शुरु हो गया है। वाल्मिकी समाज का आरोप है कि फिल्म में जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल किया गया है। जिसे लेकर जयपुर में वाल्मिकी समाज के लोगों नो सिनेमाघरों के बाहर तोड़फोड़ की है। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने सलमान के पोस्टर जलाए साथ ही उनके खिलाफ नारेबाजी भी की।

सिनेमा हॉल के बाहर ‘टाइगर जिंदा है’ का पोस्टर भी लगाया गया था। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने उस पोस्टर को भी फाड़ दिया। जयपुर के अलावे आगरा और मुरादाबाद में भी फिल्म का विरोध हो रहा है। वाल्मिकी समाज के लोगों ने सलमान के खिलाफ केस भी दर्ज करवाया है। फिल्म प्रोमोशन के दौरान एक टीवी शो में जातिविशेष के खिलाफ टिप्पणी करने का आरोप लगाया जा रहा है।

विरोध कर रहे लोगों का आरोप है कि सार्वजनिक तौर पर गलत शब्द का इस्तेमाल कर समाज के लोगों की भावनाओं को ठेंस पहुंचाई गई है। इस मामले में नेशनल कमीशन फॉर शेड्यूल ट्राइब ने सूचना प्रसारण मंत्रालय और दिल्ली-मुंबई के पुलिस कमिश्नर को नोटिस जारी किया है। जिसमें उनसे 7 दिनों में जवाब मांगा गया है।

Loading...