टीवी सीरियल में काम करनेवाले इन सितारों ने बताई शूटिंग की ‘डर्टी स्टोरी’

टीवी सीरियल में काम करनेवाले इन सितारों ने बताई शूटिंग की ‘डर्टी स्टोरी’

मुंबई:  टीवी स्क्रीन पर कलाकारों को  देखकर हर किसी के मन में ये चाहत होती है कि काश वो भी इस तरह के टीवी सीरियल में काम कर पाते। टीवी की दुनिया की चमक दमक को देखकर इस तरह के खयाल आना स्वाभाविक है। लेकिन टीवी की दुनियी की ये पूरी सच्चाई नहीं है। सामने से टीवी के कलाकार जितने चमक दमक वाले दिखाई देते हैं उसके पीछे की कहानी उतनी है बदरंग और खौफनाक है।

टीवी सीरियल ‘ऐसी दीवानगी देखी नहीं कहीं’ के दो कलाकारों में इस बदरंग सच्चाई को सामने लाया है। बॉम्बे टाइम्स को दिये इंटर्व्यू में इन्होंने शो के प्रोड्यूसर पर आरोप लगाया कि इनसे 18 घंटे तक काम करवाया जाता था। इस दौरान इन्हें ना तो खाना दिया जाता था और ना ही पानी। इनके साथ अमानवीय बर्ताव किया जाता था। यही नहीं इन दोनों लीड एक्ट्रेस ज्योति शर्मा और प्रणव मिश्रा ने बताया कि शूटिंग के दौरान सेट पर सुरक्षा इंतजाम भी नहीं करवाए जाते थे। जिसकी वजह से कई बार उन्हें चोट भी आई।

दोनों कलाकारों ने बताया कि परेशान होकर और मजबूरी में उन्होंने इस शो को छोड़ दिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक जनवरी महीने में ही ये टीवी शो ऑन एयर हुआ था। ‘ऐसी दीवानगी देखी नहीं कहीं’ की लीड एक्ट्रेस ज्योति शर्मा ने कहा कि जब से ये शो ऑन एयर हुआ है तभी से उनका शोषण हो रहा है। ज्योति ने बताया कि शूटिंग के दौरान ना तो उन्हें खाना मिलता था और ना ही चाय। ज्योति ने पेपर को बताया कि हालात इतने बिगड़ गए कि उन्हें शो को छोड़ना पड़ा।

टीवी के लीड एक्टर प्रणव मिश्रा ने शो के प्रोड्यूसर पर आरोप लगाया कि शूटिंग लॉ में दिये गए दिशानिर्देशों के मुताबिक दो शिफ्टों के बीच 12 घंटे का ब्रेक होना जरुरी है। जबकि मैं दावा कर सकता हूं कि पिछल 250 दिनों में हमने 5 घंटे के अंतर पर सेट पर वापसी की है।

ज्योति ने बताया कि एक सीन में मुझे गिरते हुए दिखाया जाना था। इसके लिए मेकर्स को गद्दे मुहैया करवाना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं किया गया। बिना सुरक्षा के मैंने ये सीन शूट किया। जिसकी वजह से मेरी पीठ में चोट भी आई।

Loading...