राष्ट्रपति चुनाव की तारीख का एलान किया गया, 17 जुलाई को होगा मतदान

नई दिल्ली:  चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया है। चुनाव आयोग ने कहा 17 जुलाई को राष्ट्रपति के लिए मतदान होगा। जबकि 20 जुलाई को मतो की गिनती होगी। चुनाव की तारीखों का एलान करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने कहा कोई भी राजनीतिक दल अपने सांसदों या विधायकों को किसी उम्मीदवार के पक्ष में वोट डालने के लिए व्हिप जारी नहीं कर सकता है। साथ ही चुनाव आयोग वोट डालने के लिए खास पेन देगा। जिसके जरिये वोट डाले जाएंगे। किसी और पेन का इस्तेमाल करने पर वोट रद्द कर दिया जाएगा।

14 जून को राष्ट्रपति चुनाव के लिए अधिसूचना जारी होगी। नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख 28 जून है। 29 जून को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। उम्मीदवारों के लिए नाम वापस लेने की तारीख 1 जुलाई है। चुनाव आयोग ने कहा अगर राष्ट्रपति के लिए वोटिंग जरुरी होती है तो 17 जुलाई को मतदान होगा। मतदान का समय सुबह 10 बजे से लेकर शाम के 5 बजे तक का है। 20 जुलाई को मतगणना होगी। मतगणना सुबह 11 बजे शुरु होगी। और मतों की गिनती होने तक जारी रहेगी।

राष्ट्रपति का चुनाव बैलेट पेपर के जरिये होगा। राष्ट्रपति के चुनाव में सभी राज्यों के विधायक और सासंद शामिल होते हैं। राष्ट्रपति बनने के लिए कुल 5 लाख 49 हजार 542 वोटों की जरुरत होती है। इस वक्त यूपी के विधायकों का वोट मूल्य सबसे ज्यादा है। यूपी के एक विधायक का वोट मूल्य 208 है। यूपी के कुल विधायकों का वोट मूल्य 83824 है। जबकि सबसे कम वोट मूल्य सिक्किम के विधायकों का है। एक सांसद के वोट का मूल्य 708 होता है।

लोकसभा और राज्यसभा के सांसदों को मिलाकर देश में कुल 776 सांसद हैं। जबकि विधायकों की संख्या 4120 है। राष्ट्रपति उम्मीदवार बनने के लिए कम से कम 50 प्रस्तावक का होना जरुरी है।

Loading...

Leave a Reply