ramnath kowind

14वें राष्ट्रपति बने रामनाथ कोविंद संबोधन में बोले ‘महान देश के 125 लोगों को नमन’

14वें राष्ट्रपति बने रामनाथ कोविंद संबोधन में बोले ‘महान देश के 125 लोगों को नमन’

नई दिल्ली:  रामनाथ कोविंद ने देश के 14वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली। बेहद ही भव्य आयोजन के बीच संसद के सेंट्रल हॉल में महामहिम रामनाथ कोविंद को सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस जे एस खेहर ने राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण के बाद प्रणब मुखर्जी और रामनाथ कोविंद की कुर्सी बदली गई। और उन्हें 21 तोपों की सलामी दी गई। सेंट्रल हॉल में हुए इस शपथ ग्रहण समारोह में उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, पीएम नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह समेत कई गणमान्य लोग मौजूद थे।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति बनने की शुभकामनाएं दी

राष्ट्रपति बनने के बाद अपने पहले संबोधन में रामनाथ कोविंद ने कहा मुझे भारत के राष्ट्रपति का दायित्व सौंपन के लिए सभी का आभार व्यक्त करता हूं। मैं पूरी विनम्रता से इस पद को ग्रहण करता  हूं। सेंट्रल हॉल में आकर पुरानी यादें ताजा हुई। सासंद के तौर पर यहां कई मुद्दों पर चर्चा की है। मैं मिट्टी के घर में पला बढ़ा हूं। मेरी ये यात्रा काफी लंबी रही है।

रामनाथ कोविंद ने कहा मैं सभी नागरिकों को नमन करता हूं। मैं विश्वास जताता हूं कि उनके भरोसे पर खरा उतरुंगा। मैं अब राजेंद्र प्रसाद, राधा कृष्णम, एपीजे अब्दुल कलाम और प्रणब दा की विरासत को आगे बढ़ा रहा हूं। अब हमें आजादी मिले 70 साल पूरे हो रहे हैं। ये सदी भारत की ही सदी होगी। हमें ऐसे भारत का निर्माण करना है जो नैतिक और आर्थिक बदलाव लाए।

अगले पेज पर जाने के लिए नीचे स्क्रॉल करें

Loading...

Leave a Reply