narender-modi-and-pranab-mukharjee

मोदी सरकार ने इसबार बजट सत्र में दो नई परंपरा की शुरुआत की

मोदी सरकार ने इसबार बजट सत्र में दो नई परंपरा की शुरुआत की




नई दिल्ली: संसद का बजट सत्र शुरु हो चुका है। सत्र के शुरु होने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा इसबार बजट सत्र में दो नई परंपराओं की शुरुआत हो रही है। पहला ये कि पहली बार बजट एक महीना पहले यानि 1 फरवरी को पेश हो रहा है। और दूसरा ये कि पहली बार रेल बजट और आम बजट को एक कर दिया गया है।

संसद में राष्ट्रपति ने अपने अभिभाषण में भी कहा कि पहली बार रेल बजट और आम बजट एक साथ पेश किया जा रहा है। राष्ट्रपति ने कहा सबका साथ सबका विकास सरकार का लक्ष्य।

अबतक आम बजट फरवरी के आखिर में पेश किया जाता था। अबतक आम बजट से एक दिन पहले रेल बजट पेश किया जाता था। उसके बाद आम बजट पेश होता था। लेकिन इसबार रेल बजट भी आम बजट के साथ ही पेश हो रहा है। हलांकि विपक्ष में एक महीना पहले बजट पेश करने पर नाराजगी जताई है।

वाम दल के नेता सीता राम येचुरी ने कहा सरकार एक महीना पहले क्यों बजट पेश कर रही है इस बारे में सरकार को बताना चाहिए। येचुरी ने कहा आखिरी तिमाही के आंकड़े सरकार के पास नहीं रहेंगे। जबकि आखिरी तिमाही के आंकड़ों के आधार पर ही बजट को तैयार किया जाता है। लेकिन इसबार ऐसा नहीं है। वहीं कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि सरकार ने चुनाव में फायदा उठाने के लिए एक महीने पहले बजट पेश कर रही है।

Loading...

Leave a Reply