AAP के दफ्तर पर लगे पोस्टर में कुमार विश्वास को बताया ‘बीजेपी का यार’

नई दिल्ली:  आम आदमी पार्टी के भीतर चल रहा असंतोष एक बार फिर धरातल पर उभर आया है। इस बार के अविश्वास के केंद्र में हैं आप के नेता कुमार विश्वास। कुमार विश्वास के खिलाफ दिल्ली में आप के दफ्तर के बाहर पोस्टर लगाए गए हैं। जिसमें बताया गया है कि कवि कुमार विश्वास आप के लिए नहीं बीजेपी के लिए काम कर रहे हैं। इस पोस्टर में आप के नेता दिलीप पांडे का भी नाम है। जिन्होंने हाल ही में कुमार से पूछा था कि वो बीजेपी के साथ दिल्लगी क्यों दिखाते हैं।

पार्टी दफ्तर के बाहर लगाए गए पोस्टर में लिखा गया है ‘भाजपा का यार है कवि नहीं गद्दार है ऐसे धेखेबाजों को बाहर करो…बाहर करो।‘ इस पोस्टर में साथ ही लिखा गया है ‘कुमार विश्वास का काला सच खुलकर बताने के लिए भाई दिलीप पांडे का आभार।‘ हलांकी इस पोस्टर में ये नहीं बताया गया है कि इस पोस्टर को किसने लगवाया है।

कुमार की पार्टी से तल्खी तभी सामने आ गई थी जब वो जंतर मंतर पर प्रदर्शन कर रहे तमिलनाडु के किसानों से मिलने गए थे। उस वक्त कुमार विश्वास ने एक सवाल के जवाब में कहा था भांड में जाए पार्टी। कुमार का ये वो बयान था जिसने दुनिया को बता दिया कि अब आप को विश्वास पर और विश्वास को आप पर भरोसा नहीं रहा।

पार्टी के भीतर उभरा ये अविश्वास इस बात की दस्तक है कि आनेवाले दिनों में एक बड़ा विवाद आप का इंतजार कर रहा है। दिलीप पांडे के ट्वीट ने उस विवाद की चिंगारी जला दी है, विश्वास के खिलाफ लगाए गए इस तरह के पोस्टर से उस चिंगारी को हवा दी जा रही है अब इंतजार उसके सुलगने का है। पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल की खामोशी ये बयां करने के लिए काफी है कि उनके मन में भी विश्वास को लेकर कुछ चल रहा है। क्योंकि दिलीप पांडे के ट्वीट पर पार्टी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई। उसके बाद ये पोस्टर।

पिछले दिनों केजरीवाल पार्टी से सस्पेंड चल रहे अमानतुल्लाह के इफ्तार पार्टी में भी शामिल हुए थे। इसी अमानतुल्लाह ने कुमार को बीजेपी का करीबी बताने की शुरुआत की थी। जिसके बाद पार्टी ने भले ही अमानतुल्ला से थोड़ी दूरी बना ली लेकिन पार्टी सुप्रीमो के दिल में अमानतुल्लाह के लिए अभी भी जगह बाकी है। इफ्तार पार्टी में ये करीबी उसी को बयां कर रही है।

Loading...