50 साल मना रहो हो, थोड़ा तो मुस्कुराइये – नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली हाईकोर्ट के स्वर्ण जयंती समारोह में पहुंचे थे। लेकिन वहां माहौल कुछ ज्यादा ही गंभीर बना हुआ था। इसपर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा माना कोर्ट के भीतर काफी गंभीर माहौल होता है। लेकिन यहां तो मुस्कुरा सकते हो। मोदी ने आगे कहा ‘50 साल मना रहे हो थोड़ा तो मुस्कुराइये।‘

सरदार पटेल की जयंती पर उनको याद करते हुए मोदी ने कहा सरदार पटेल चाहते तो बैरिस्टर के तौर पर जिंदगी बना सकते थे। लेकिन देशहित के लिए राजनीति में आ गए। एक बड़े आंदोलन को उन्होंने दिशा दी, पूरा देश उनको नमन करता है। लोकतंत्र में चर्चा और बहस होती रहनी चाहिए। चुनौती से भागना नहीं बल्कि उससे जूझना हमारा स्वभाव होना चाहिए।

पीएम ने आगे कहा उन्हें कभी अदालत का हिस्सा बनने का मौका नहीं मिला। कोर्ट सभी के योगदान से काम करता है। चाहे टाइपराइटर हो, जज हो, वकील हो और चायवाला भी हो जो चाय देता है। न्यायपालिका का भारत में सदियों से सम्मान किया जाता रहा है। सभी सरकारी मशीनरी हर संभव तरीके से न्यायपालिका का समर्थन करने के लिए काम करेंगी।

सीएम केजरीवाल ने इस मौके पर न्यायपालिका में नियुक्ति की देरी पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा न्यायपालिका में खाली पड़े पद चिंता का विषय हैं। नियुक्तियों में हो रही देरी अफवाहों को हवा देती है जो लोकतंत्र के लिए सही नहीं है। केजरीवाल ने जजों के फोन टैपिंग का मामला दिल्ली हाईकोर्ट के स्वर्ण जयंती समारोह में उठाया।

केजरीवाल ने कहा अगर सचमुच ऐसा हुआ है तो यह न्यायपालिका पर सबसे बड़ा हमला है। कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने केजरीवाल के इन आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि सरकार का न्यायपालिका की स्वतंत्रता पर हमला करने का कोई इरादा नहीं है।

Loading...