महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री से की गई PM नरेंद्र मोदी की तुलना

महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री से की गई PM नरेंद्र मोदी की तुलना

मध्यप्रदेश के दामोह में पीएम नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के दूसरे चरण को लॉन्च करने पहुंचे थे। शिवराज के राज में पीएम के स्वागत कि सारी तैयारी थी। मंच सजा था, लोगों की भीड़ मौजूद थी एक से बढ़कर एक बातें हो रही थीं।

जब बोलने की बारी मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान की आई तो उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी की तुलना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से कर दी। शिवराज सिंह ने कहा की जिस तरह से जनता पहले महात्मा गांधी को ध्यान से सुनती थी उसी तरह से आज दुनियाभर में पीएम नरेंद्र मोदी की बातों को सुना जा रहा है। जब मंच पर पीएम का गुणगान हो रहा था तब गुजरात की सीएम आनंदी बेन पटेल, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया भी मौजूद थीं।

बोलने की बारी बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की भी आई। महात्मा गांधी से मोदी की तुलना हो चुकी थी। इसलिए अमित शाह ने लाल बहादुर शास्त्री से नरेंद्र मोदी की तुलना कर दी। उन्होंने संपन्न लोगों द्वारा एलपीजी सब्सिडी छोड़ने की पीएम की अपील की तुलना लाल बहादुर शास्त्री की तरफ से की गई उस अपील से कर दी जिसमें उन्होंने देश में खाद्यान्न की कमी के चलते लोगों से एक वक्त का खाना छोड़ने की अपील की थी।

अमित शाह ने कहा की पीएम की इस अपील पर जो प्रतिक्रिया मिली है वो अभूतपूर्व है। इससे पहले किसी प्रधानमंत्री को इस तरह की जबरदस्त प्रतिक्रिया नहीं मिली थी। अगर पहले की बात करें तो लाल बहादुर शास्त्री ने लोगों से इस तरह की अपील की थी। उन्होंन लोगों से दाल चावल नहीं खाने की अपील की थी। जिसके बाद लोगों ने उनकी अपील मानी थी और लोगों ने दाल चावल खाना बंद कर दिया था। जिस तरह से शास्त्री जी की अपील पर लोगों ने दाल चावल खाना चोड़ दिया था उसी तरह से पीएम की अपील पर लोगों ने एलपीजी गैस सब्सिडि छोड़ दी।

Loading...

Leave a Reply