NITI आयोग की बैठक में PM ने मुख्यमंत्रियों को बताया अगले 15 साल का प्लान

नई दिल्ली:  देश को तरक्की के रास्ते पर अग्रसर करने के लिए और बदलाव लाने के लिए नीति आयोग की गवर्निंग काउंसिल की बैठक हुई। जिसमें पीएम ने सभी राज्यों के मुख्य मंत्रियों को अगले 15 साल का रोडमैप बताया। हलांकि कुछ राज्य जैसे दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी इस बैठक में नहीं पहुंची। नीती आयोग की इस बैठक की अध्यक्षता पीएम नरेंद्र मोदी ने की।

बैठक में पीएम ने देश को तरक्की के रास्ते पर ले जाने के लिए सभी मुख्यमंत्रियों से सहयोग मांगा। बैठक में पीएम मोदी ने कहा न्यू इंडिया का विजन तभी साकार हो सकता है जब राज्य और उसके मुख्यमंत्री मिलकर प्रयास करें। राज्य भी अब नीति निर्धारण की प्रक्रिया का हिस्सा बनेंगे। मुख्यमंत्रियों पर बोलते हुए पीएम ने कहा नीति के जरिये अहम मुद्दों मसलन केंद्रीय योजनाओं, स्वच्छ भारत, स्किल डिवेलपमेंट और डिजिटल पेमेंट पर मुख्यमंत्रियों की भी राय ली जाएगी।

पीएम ने इस बैठक में कहा कि नीति आयोग सरकार इनपुट पर आधारित नहीं है। इसमें बदलाव के लिए और उसे साकर करने के लिए युवा विशेषज्ञों और एक्सपर्ट को जोड़ा गया है। दिल्ली में हुई इस बैठक में राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ-साथ कई केंद्रीय मंत्री भी शामिल हुए। इस बैठक में शामिल होने के लिए कुछ लोगों को इनविटेशन भी भेजा गया था। इनलोगों की भी मौजूदगी बैठक में रही।

Loading...