काशी का किला बचाने सड़कों पर निकले पीएम मोदी, कालभैरव के सामने नतमस्तक

वाराणसी:  बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के हैलीपैड से पीएम मोदी ने काशी में अपने कदम रखे। बीएचयू गेट से पीएम मोदी ने वाराणसी का रोड शो शुरु हुआ। मोदी का रोड शो इसलिए भी खास है क्योंकि मोदी के सामने चुनौती अपने घर को बचाने की है। यही वजह है कि अगले तीन दिनों तक पीएम मोदी वाराणसी में रोड शो अलावे अगले दो दिनों में रैली भी करेंगे।

वाराणसी पीएम मोदी का लोकसभा क्षेत्र भी है। पीएम मोदी ने सबसे पहले पंडित मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किये। इसके बाद उन्होंने वाराणसी में अपना रोड शो शुरु किया। सड़क के दोनों तरफ मोदी की झलक पाने के लिए भारी तादाद में लोग मौजूद हैं। इस बार पीएम मोदी कालभैरव के दर्शन भी करेंगे।

काल भैरव को काशी का कोतवाल कहा जाता है। लेकिन सांसद बनने के बाद से लेकर अबतक उन्होंने काल भैरव के दर्शन नहीं किये थे। लेकिन इसबार पीएम मोदी कालभैरव के सामने भी अपना शीश झुकाएंगे। काल भैरव के दर्शन के साथ ही मोदी का रोड शो भी खत्म होगा।

वाराणसी के जिन जिन रास्तों से होकर पीएम मोदी का काफिला गुजर रहा था वहां वहां मोदी मोदी के नारे लग रहे थे। इस रोड शो की खासियत ये है कि इसमें नेता कहता तो कुछ नहीं है लेकिन आंखों के संपर्क से वो जनता पर अपना प्रभाव छोड़ जाता है। यही पीएम मोदी आज वाराणसी की सड़कों पर कर रहे थे।

2014 के लोकसभा चुनाव से पहले जब पीएम मोदी ने वाराणसी में अपना रोड शो किया था तो उस वक्त उनका काफिला मुस्लिम बहुल इलाके से नहीं गुजरा था। लेकिन इसबार रोड शो में तीन से चार ऐसे इलाके थे मोदी के रोड शो के रास्ते में जो पूरी तरह से मुस्लिम बहुल इलाके हैं। इससे पहले अबतक किसी भी वीवीआईपी ने इन इलाकों में इस तरह का रोड शो नहीं किया था। लेकिन पीएम मोदी अपनी गाड़ी से बाहर निकलकर लोगों का अभिवादन स्वीकार कर रहे थे।

Loading...

Leave a Reply