लालकिले से प्रधानमंत्री मोदी का पूरा भाषण सुनिये VIDEO

स्वतंत्रता दिवस की 70वीं सालगिरह पर प्रधानमंत्री ने लाल किले से देश को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि यूपीए सरकार पर निशाना साधते हुए कहा ये सरकार आक्षेपों की नहीं अपेक्षाओं की सरकार है। प्रधानमंत्री के इस भाषण की सबसे बड़ी बात ये थी कि पहली बार किसी भारतीय प्रधानमंत्री ने लाल किले से बलूचिस्तान, गिलगित और पीओके का जिक्र किया। प्रधानमंत्री ने बलूचिस्तान, गिलगित पीओके के लोगों का आभार व्यक्त किया। पीएम ने कुछ दिन पहले पीओके को भारत का अभिन्न अंग बताया था। जिसपर वहां की जनता ने पाकिस्तान के जुल्म से आजादी के लिए पीएम मोदी से मदद मांगी थी। इसके अलावे पीएम ने अपने भाषण में स्वतंत्रता सेनानियों का पेंशन 25 हजार से बढ़ाकर 30 हजार करने का एलान किया है। गरीबी रेखा से नीचे रहनेवाले लोगों को इलाज के लिए साल में 1 लाख रुपये खर्च करेगी सरकार। पीएम मोदी ने भटके युवाओं से हिंसा का रास्ता छोड़कर घर वापस लौटने की अपील की।

  1. उपनिषद से उपग्रह तक भारत का इतिहास
  2. हर हिंदुस्तानी आजादी के आंदोलन का सिपाही था
  3. एक भारत श्रेष्ठ भारत का सपना पूरा करने का प्रयास करना चाहिए
  4. सभी हिंदुस्तानियों के संकल्प से स्वराज मिला है
  5. स्वराज को सुराज में बदलने का सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानियों का संकल्प है
  6. सुराज के लिए सभी देशवासियों को अपनी जिम्मेदारी से प्रतिबद्धता से आगे बढ़ना होगा
  7. अगर समस्याएं हैं तो देश के पास सामर्थ्य भी है
  8. सामर्थ्य से समस्याओं के समाधान के रास्ते मिल जाते हैं
  9. सवा सौ करोड़ मस्तिष्क समस्याओं का समाधान करने का सामर्थ्य रखती है
  10. एक समय सरकार आक्षेपों से घिरी रहती थी लेकिन अब वक्त बदल गया
  11. अब सरकार अपेक्षाओं से घिरी रहती है
  12. जिसके पास भरोसा हो उसी के कोख से अपेक्षाएं जन्म लेती हैं
  13. दो साल के कामकाज का ब्यौरा दूंगा तो हफ्ते भर लालकिले से बोलना पड़ेगा
  14. कार्य का लेखा जोखा करना सरल है लेकिन कार्य संस्कृति के लिए गहराई में जाकर जानना, समझना पड़ता है
  15. आज केवल नीति की नहीं नीयति और निर्णय की बात कर रहा हूं
  16. ये मति भी है और सहमति भी है
  17. ये गति भी है और प्रगति का एहसास भी है
  18. सुराज का सीधा मतलब है हमारे देश के समान्य से सामान्य मानव के जीवन में बदलाव लाना
  19. शासन संवेदनशील होना चाहिए
  20. कभी बड़े अस्पताल में इलाज के लिए 3-4 दिनों तक इंतजार करना पड़ता था, लेकिन हम इन व्यवस्थाओं को बदल सके हैं, आज सबकुछ ऑनलाइन से हो रहा है, एम्स में अब ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन होता है। सरकार के 40 से ज्यादा अस्पतालों में ऑनलाइन व्यवस्था है।
  21. पहले एक मिनट में 2000 रेल टिकट निकलते थे, अब एक मिनट में 15,000 रेल टिकट मिलना संभव हो सका है
  22. सरकार में जवाबदेही होनी चाहिए
  23. मध्यम वर्ग, उच्च मध्यम वर्ग पुलिस से ज्यादा इनकम टैक्स से परेशान रहता है। इस स्थिति को मुझे बदलना है, मैं बदलकर रहूंगा
  24. हमने ऑन लाइन रिफन्ड देने की व्यवस्था की, पहले रिफन्ड मिलने में साल लग जाते थे
  25. सुराज के लिए पारदर्शिता को बल देना उतना ही महत्वपूर्ण है
  26. पहले साल में 40-50 लाख पासपोर्ट की अर्जी आती थी अब 2 करोड़ लोग आवेदन करते हैं
  27. पहले चार-छ महीने में पासपोर्ट मिलते थे अब 1-2 हफ्ते में पासपोर्ट मिल जाते हैं
  28. 2015-16 में पौने दो करोड़ पासपोर्ट देने का हमने काम किया
  29. पहले कारखाना लगाने के लिए आवेदन करते थे और 6 महीने फाइलों को देखने में ही निकल जाते थे, लेकिन आज 24 घंटे में वो काम होता है
  30. जुलाई में 900 से ज्यादा कारखानों के रजिस्ट्रेशन का काम किया गया
  31. 9000 सरकारी पद को इंटरव्यू से बाहर कर दिया है
  32. प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में पहले एक दिन में 70-75 किलोमीटर काम होता था हम उसे 100 किलोमीटर ले गए हैं
  33. पहले 10 साल में 1500 किलोमीटर रेल लाइन का हिसाब था अब हम 3500 किलोमीटर का काम किये हैं
  34. पहले की सरकार ने 4 करोड़ लोगों के आधार नंबर को सरकारी योजना से जोड़ा था। हमने दो साल में 70 करोड़ लोगों के आधार नंबर को सरकारी योजना से जोड़ दिया है
  35. 60 साल में 14 करोड़ रसोई गैस के कनेक्शन दिये थे और हमने 60 हफ्ते में 4 करोड़ लोगों को रसोई गैस के कनेक्शन दिये
  36. पौने 1200 को निरस्त कर चुके हैं, 1700 ऐसे कानून को निकाले हैं जिन्हें निरस्त करना है।
  37. 21 करोड़ परिवारों को जन धन योजना में जोड़ने का काम असंभव बताया जा रहा था लेकिन उसको संभव करना है
  38. हिंदुस्तान के गांव में 2 करोड़ से ज्यादा शौचालय बन चुके हैं 70 हजार गांव खुले में शौच जाने से मुक्त हो चुके हैं
  39. 1000 दिन में 18000 गांव में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है। अबतक हमने 10,000 गांव में बिजली पहुंचा दिये हैं।
  40. नगला खटेला पहुंचने में दिल्ली से 3 घंटे लगते हैं लेकिन बिजली को पहुंचने में 70 साल लग गए
  41. भारत में साढ़े तीन सौ में LED बल्ब मिलता था अब 50 रुपये में LED बल्ब बांट रहे हैं। 13 करोड़ बंट चुके हैं 77 करोड़ बल्ब बांटने का संकल्प है
  42. जिस दिन 77 करोड़ बल्ब बंट जाएंगे उस दिन 20 हजार मेगावाट बिजली बचेगी। आप भी एलईडी बल्ब लगाइये
  43. पहले की सरकार में महंगाई दर 10 फीसदी थी हमने 6 फीसदी के ऊपर जाने नहीं दिया है
  44. हमने आरबीआई से कहा है महंगाई दर 4 फीसदी से ज्यादा न हो। प्लस मानस 2 फीसदी हो
  45. दाल की बढ़ती कीमत को रोकने की कोशिश की है
  46. किसान भाइयों ने सूखे के बावजूद देश का अन्न भंडार भरने की जो कोशिश की है उसके लिए उनका अभिनंदन करता हूं
  47. दाल की मांग बढ़ी तो हमारे किसानों ने दाल की बुवाई डेढ़ गुना बढ़ा दी है, किसान को दाल की फसल के लिए प्रोत्साहित कर रहा हूं
  48. सॉयल हेल्थ कार्ड से किसानों को उनके खेतों की मिट्टी की कमीं के बारे में जानकारी दी गई
  49. सिंचाई की योजनाएं ठप पड़ी थी हमने उसे शुरु करने का बीड़ा उठाया है
  50. सोलर पंप पर जोर दिया है 77 हजार सोलर पंप बांटने में सफलता पाई है
  51. 131 से ज्यादा नए कृषि बीज तैयार किये हैं जो प्रति हेक्टेयर उत्पादन बढ़ाते हैं
  52. पहले खाद के लिए पुलिस लाठीचार्ज करती थी खाद की कमी इतिहास बन चुका है। अब हम सबसे ज्यादा खाद का उत्पादन कर रहे हैं
  53. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना तैयार की जिसें कम प्रीमियम पर ज्यादा लाभ देने काम शुरु किया है
  54. सरकारी खाजाने को खाली कर सरकार की पहचान बनाने की परंपरा रही है लेकिन हमने खुद को इससे दूर रखा है
  55. हमने सरकार की पहचान बनाने से ज्यादा हिंदुस्तान की पहचान कैसे बने उसपर बल दिया है
  56. लोकतंत्र में अहंकार नहीं चलता है हमने पुरानी सरकार के कामों पर भी उतना ही ध्यान दिया है
  57. 10 लाख करोड़ के 270 प्रोजेक्ट की पहचान की जिसकी शुरुआत की गई लेकिन काम को आगे नहीं बढ़ाया गया था
  58. योजनाओं का देरी होना क्रिमिनल नेग्लिजेंस है
  59. रेल प्रोजेक्ट की मंजूरी में 2 साल लगते थे अब 3-6 महीने में मंजूरी मिलती है
  60. नीयत साफ होती है तो निर्णय करने का जज्बा भी अलग होता है
  61. यूपी के अखबार में हर बार गन्ना किसानों के बकाये की खबर छपती थी
  62. हमने पुराने बकाया का 99.5 फीसदी चुका दिया
  63. अबतक 95 फीसदी किसानों के गन्ने का दाम चुका दिया गया
  64. पोस्ट ऑफिस के पेमेंट बैंक बनाने का काम शुरु किया है
  65. एयर इंडिया को प्रॉफिट में लाने में सफल हुए हैं
  66. बीएसएनएल को फायदे में लाने में कामयाब हुए हैं
  67. शिपिंग कॉरपोरेशन को भी फायदे में लाया
  68. वृद्धा पेंशन जैसी योजना में बिचैलिये सक्रिय थे
  69. आधार कार्ड से बिचौलिये बाहर हुए वो खरबों रुपये मार लेते थे
  70. लास्ट मैन डिलीवरी की दिशा में हमने काम किया है
  71. आज कोयले की नीलामी पर कोई दाग नहीं है
  72. दुनिया की सभी संस्थाओं ने भारत की प्रगति को सराहा है
  73. हमने काफी तेजी से अपनी रैंकिंग में सुधार किया है
  74. यूएन की संस्था ने कहा है कि 2 साल के भीतर भारत 10वें से तीसरे नंबर पर आ जाएगा
  75. जीएसटी पास करने के लिए सभी दल अभिनंदन के अधिकारी
  76. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ में हर मां बाप के सहयोग की जरुरत
  77. मुद्रा योजना का लाभ साढ़े तीन करोड़ से ज्यादा लोगों ने लिया
  78. मातृत्व अवकाश 6 महीने कर दी गई है
  79. इनाम योजना के तहत किसान अपना माल ऑन लाइन देश के किसी भी मंडी में बेच सकते हैं
  80. बिजली दर कम करने के लिए वन नेशन, वन ग्रीड, वन प्राइस पर काम कर रहे हैं
  81. ईपीएफ में 27 हजार करोड़ रुपये पड़े थे। लेकिन कोई लेनेवाला नहीं था। लेकिन अब मजदूर जहां जाएगा उसका पैसा वहां ट्रांसफर हो जाएगा।
  82. बीमारी पुरानी है तो उपचार कठोरता से करने होंगे। समाज में टकराव की स्थिति से निकलना होगा।
  83. सशक्त हिंदुस्तान सशक्त समाज के बिना नहीं बन सकता है
  84. सशक्त समाज बनता है समाजिक न्याय के अधिष्ठान पर
  85. समाजिक न्याय पर बल देने की जरुरत
  86. युवाओं को अवसर मिले रोजगार मिले ये हमारे लिए समय की मांग है
  87. पंडित दीन दयाल उपाध्याय कहते थे आखिरी छोर के व्यक्ति का कल्याण
  88. हर नौजवान के पास अवसर, काम होना चाहिए
  89. हम चीजों को टालने में विश्वास नहीं करते हम टालना नहीं टकराना जानते हैं
  90. आजादी के बाद 35 हजार पुलिस के जवानों का बलिदान हुआ है
  91. वन रैंक वन पेंशन का वादा हमने पूरा किया
  92. नेताजी की फाइलें खोलकर सार्वजनिक कर दी
  93. बांग्लादेश के साथ सीमा विवाद खत्म कर दिया
  94. बिल्डरों की जमात पर नकेल डालने के लिए रियल एस्टेट बिल बनाया
  95. हिंसा और अत्याचार के लिए हमारे देश में कोई जगह नहीं है
  96. माओवाद, उग्रवाद,आतंकवाद पर निर्दोषों को मारने का काम किया जा रहा है
  97. ये देश हिंसा को कभी सहन नहीं करेगा, आतंकवाद को कभी सहन नहीं करेगा
  98. हमने जिस दिन शपथ लिया था सार्क देशों के नेताओं के बुलाया था
  99. हमारे सभी पड़ोसी देशों की एक ही चुनौती है गरीबी
  100. दुनिया को बताना चाहता हूं कि मानवता में विश्वास करनेवाले लोग कैसे होते हैं और आतंकवाद को पुरस्कार देनेवाले कैसे होते हैं
  101. पेशावर में निर्दोष बच्चों को मार दिया गया था लेकिन हिंदुस्तान की संसद की आंखों में आंसू थे। भारत के स्कूल का बच्चा पेशावर के बच्चे के लिए दुख महसूस कर रहा था
  102. लेकिन जब भारत में आतंकवाद से निर्दोष लोग मारे जाते हैं तो वहां जश्न मनाए जाते हैं
  103. बलूचिस्तान, गिलगित पीओके ने जिस तरह से मुझे बहुत बहुत धन्यवाद दिया है जिस तरह से आभार प्रकट किया है। जिनसे मेरी कभी मुलाकात नहीं हुई है ऐसे दूर बैठे लोग अगर हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री का सम्मान करते हैं तो ये हमारे देश का सम्मान है। मैं उन लोगों का तहे दिल से आभार व्यक्त करना चाहता हूं
  104. जिस स्वतंत्रता सेनानी को 25 हजार रु. पेंशन मिलते थे उन्हें अब 30 हजार रु. पेंशन मिलेंगे
  105. आदिवासियों के बलिदान को याद किया जाएगा
  106. बिरसा मुंडा जैसे वीरों के बारे में जानकारी के लिए म्यूजियम बनाए जाएंगे अलग अलग राज्यों में
  107. बीपीएल परिवारों का एक साल में इलाज का 1 लाख रुपये का खर्च भारत सरकार उठाएगी
Loading...

Leave a Reply