narender-modi-at-fatehpur-rally

मोदी ने किया श्मशान-कब्रिस्तान का जिक्र तो विरोधी बोले मोदी जी ध्रुवीकरण कर रहे हैं

मोदी ने किया श्मशान-कब्रिस्तान का जिक्र तो विरोधी बोले मोदी जी ध्रुवीकरण कर रहे हैं




नई दिल्ली: यूपी में विधानसभा चुनाव के तीसरे दौर की वोटिंग खत्म हो गई। इसके साथ साथ दूसरी तरफ राजनीतिक पार्टी अपने प्रचार में लगे रहे। फतेहपुर में पीएम मोदी ने साफ तौर पर कहा कि यूपी में धर्म के नाम पर भेदभाव किया जाता है। रैली में कब्रिस्तान और श्मशान का जिक्र करने पर कांग्रेस ने पीएम के इस बयान की निंदा की है।

फतेहपुर की रैली में पीएम मोदी ने कहा किसी गांव में अगर कब्रिस्तान बनता है तो श्मशान भी बनना चाहिए। अगर रमजान पर बिजली आती है तो दिवाली पर भी बिजली आनी चाहिए। अगर होली पर बिजली आती है तो ईद पर भी बिजली आनी चाहिए। पीएम ने कहना का मतलब है कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए।

पीएम मोदी के इस बयान को समाजवादी पार्टी और काग्रेस के मुस्लिम–यादव समीकरण की काट के तौर पर देखा जा रहा है। राजनीति के जानकार बता रहे हैं कि पीएम ने इस तरह का बयान देकर बीजेपी के धर्म विशेष का पुराना एजेंडा साफ कर दिया है। जानकार ये भी बता रहे हैं कि बीजेपी को ये एहसास हो गया है कि यूपी में मोदी फैक्टर काम कर रहा है। इसलिए मोदी ने यूपी चुनाव की कमान सीधे सीधे अपने हाथ में ले ली है।

राजनीतिक जानकारों की राय के मुताबिक मोदी ने बीजेप के परंपरागत धर्म विशेष को वोटर्स को अपने साथ जोड़ने के दांव को खेला है। बीजेपी दलित, कुर्मी और ब्राह्मण वोटर्स के बीच संभावना तलाश रही है। इसकी वजह पूर्वांचल और बुंदेलखंड में काफी सीटों पर यादव जाति का प्रभावी होना है। चौथे चरण में यहां चुनाव होगा।

हलांकि पीएम मोदी ने फतेहपुर में जो कब्रिस्तान और श्मशान की बात कही उसपर कांग्रेस ने कहा है कि बीजेपी वोटों का ध्रुवीकरण कर रही है। कांग्रेस नेता मीम अफजल ने कहा प्रधानमंत्री के मुंह से इस तरह की भाषा शोभा नहीं देती है। वो धर्म के नाम पर लोगों को बांटने का काम कर रहे हैं।

Loading...

Leave a Reply