खादी ग्रामोद्योग के कैलेंडर और डायरी में महात्मा गांधी की जगह पीएम मोदी की तस्वीर छपी




नई दिल्ली: खादी ग्रामोद्योग के सालाना कैलेंडर पर इस साल राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जगह पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर छापी गई है। खादी ग्रामोद्योग के आधिकारिक सूत्रों ने इसकी पुष्टि की है। इस तस्वीर में पीएम मोदी चरखा चलाते हुए दिखाई दे रहे हैं। इससे पहले महात्मा गांधी की चरखा चलाने वाली तस्वीर छापी जाती थी।

अपनी तस्वीर में पीएम मोदी कुर्ता, पायजाना और वेस्ट कोट पहने हुए हैं। मोदी के सामने गांधी जी के पारंपरिक चरखे की जगह मॉडर्न चरखा रखा हुआ है। जिसपर पीएम मोदी खादी के सूत काट रहे हैं। खादी ग्रामोद्योग के कैलेंडर और डायरी में किये गए इस बदलाव पर सोशल साइट्स में तेजी से प्रतिक्रिया आ रही है।

इसे कई लोगों ने इस बदलाव को गलत ठहराया है। कुछ ने ट्वीट कर लिखा है कि मोदी ने गांधी जी को खादी ग्रामोद्योग से बाहर कर दिया तो कुछ में इस फैसले की निंदा की गई है। आयोग के कुछ कर्मचारी ऐसे भी हैं जो गांधी की जगह मोदी की तस्वीर छापने से दुखी हैं। विले पार्ले में KVIC के हेडक्वार्टर में कर्मचारियों ने इसपर विरोध भी जताया। कर्मचारियों ने गुरुवार को लंच के वक्त मुंह पर काली पट्टी बांधकर इसका विरोध किया।

खादी ग्रामोद्योग का कहना है कि पूरा खादी उद्योग गांधी जी के दर्शन,विचारों और आदर्शों पर आधारित है। वह खादी ग्रामोद्योग की आत्मा हैं। ऐसे में उन्हें नजरअंदाज किये जाने का सवाल ही नहीं है। गांधी की जगह मोदी की तस्वीर छापने पर खादी ग्रामोद्योग का कहना है कि पीएम नरेंद्र मोदी भी लंबे वक्त से खादी पहनते रहे हैं। उन्होंने भारतीयों समेत विदेशियों को भी खादी की तरफ आकर्षित किया है। पीएम मोदी खादी के सबसे बड़े ब्रांड ऐंबैसडर हैं।

खादी ग्रामोद्योग की तरफ से कहा गया कि मोदी के मेक इन इंडिया विजन के तहत खादी ग्रामोद्योग गावों को आत्मनिर्भर बनाने और स्किल डिवलपमेंट के जरिये युवाओं को रोजगार देने की कोशिश में जुटा है।

Loading...

Leave a Reply