कजाकिस्तान में पीएम मोदी ने नवाज शरीफ से पूछा ‘तबीयत कैसी है?’

नई दिल्ली:  SCO की बैठक में शामिल होने कजाकिस्तान गए प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने गुरुवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मुलाकात की। सूत्रों के हवाले से ये खबर आ रही है। दोनों नेताओं के बीच हुई ये अनौपचारिक मुलाकात अस्ताना में हुई। सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि पीएम मोदी ने नवाज शरीफ से उनकी तबीयत के बारे में बात की। कहा ये भी जा रहा है कि नवाज शरीफ के परिवार के बारे में भी पीएम मोदी ने बात की। लेकिन इस मुलाकात के बाद कार्यक्रम में दोनों एक दूसरे से काफी दूर बैठे थे।

पीएम मोदी और नवाज शरीफ के बीच मुलाकात की खबर उस वक्त आ रही है जब दोनों देशों के बीच कई मुद्दों को लेकर तनाव अपने चरम पर है। इस मुलाकात के बाद विदेश मंत्रालय की तरफ से साफ किया गया कि यहां द्विपक्षीय बातचीत का कोई प्रस्ताव नहीं है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पहले ही कहा था कि आतंकवाद और बातचीत एक साथ नहीं चल सकता है।

हाल ही में इस बात को खुद हुर्रियत नेताओं ने कैमरे पर कबूल किया है कि कश्मीर में हालात बिगाड़ने के लिए उन्हें पाकिस्तान सरकार की तरफ से फंडिंग हो रही है। इसके अलावे आतंकियों की घुसपैठ का मुद्दा अपने जगह आज भी कायम है। रोजाना सेना सीमा पर पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार रही है। घुसपैठ के लिए पाकिस्तान सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है। लेकिन अब भारतीय सेना की तरफ से भी पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब दिया जा रहा है।

कुलभूषण जाधव की फांसी के मुद्दे को लेकर इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में मामला चल रहा है। इसके अलावे भी कई मुद्दे हैं जिसका हल तभी निकल सकता है जब पाकिस्तान एक ईमानदार कोशिश करे। लेकिन ये अबतक मुकम्मल नहीं हो पाया है। क्योंकि पाकिस्तान में सत्ता भले ही नवाज शरीफ के हाथ हो लेकिन उसका एक सिरा पाकिस्तानी सेना के हाथ में है और दूसरा खुफिया एजेंसी आईएसआई के हाथ में। बगैर इनकी मंजूरी के पाकिस्तान में सरकार अपनी मर्जी का फैसला नहीं कर सकती। और हकीकत ये है कि पाकिस्तानी सेना और आईएसआई ये स्वीकार नहीं कर सकते कि भारत के साथ पाकिस्तानी सरकार दोस्ताना संबंध रखे।

Loading...