इजरायल दौरे पर रवाना हुए पीएम मोदी, नेतन्याहू प्रोटोकॉल तोड़कर स्वागत करेंगे

नई दिल्ली:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इजरायल के दौरे पर रवाना हो गए हैं। पीएम शाम के 6 बजे इजरायल के तेल अवीव पहुंचेंगे। वहां पीएम मोदी का स्वागत करने के लिए खुद इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू एयरपोर्ट पर मौजूद रहेंगे। पिछले 70 सालों में ये पहला मौका है जब कोई भारतीय प्रधानमंत्री इजरायल के दौरे पर जा रहा है। हलांकी इस बीच में दोनों देशों के मंत्रियों के बीच मुलाकात होती रही है।

इजरायल में तेल अवीव पहुंचने के बाद वहां दोनों देशों का राष्ट्रगान गाया जाएगा। इजरायल में भारत के राष्ट्रगान को लियोरा गाएंगी। लियोरा की आवाज के इजरायल में लाखों दीवाने हैं। वो 15 साल की थीं जब भारत आई थीं। भारत में 8 साल तक रहकर उन्होंने गजल, भजन और शास्त्रीय संगीत सीखा। अब जबकि भारत और इजरायल अपनी दोस्ती का एक नया अध्याय लिखने जा रहे हैं तो इस दोस्ती के मौके पर लियोरा दोनों देशों का राष्ट्रगान गाएंगी।

इजरायल दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बेंजामिन नेतन्याहू के बीच कई समजौतों पर दस्तखत होंगे। नए करार होंगे। इजरायल के लिए पीएम मोदी का दौरा इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि वो दुनिया को ये बता सकता है कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र का सबसे बड़ा नेता उसका मेहमान है। भारत और इजरायल के बीच मजबूत रक्षा समझौते हुए हैं। इजरायल अपने रक्षा उपकरण का 48 फीसदी निर्यात भारत मे करता है। आनेवाले 5 सालों में इसके और बढ़ने की पूरी उम्मीद है।

पीएम के इस दौरे में माना जा रहा है इजरायल से मानव रहित लड़ाकू विमान पर भी चर्चा की जा सकती है। दरअसल इजरायल के रक्षा उपकरण और तकनीक के सामने बड़े-बड़ देश भी बौने साबित हो जाते हैं। रक्षा खरीद के अलावे दूसरे क्षेत्रों में इजरायल की तकनीक भी गजब है। इजरायल की जमीन खेती के लायक उपयुक्त नहीं मानी जाती है। लेकिन समुद्र से घिरे इस देश में खेती की ऐसी तकनीक विकसित की है कि वहां जरुरत की हर सब्जी और अनाज उगाए जाते हैं।

वाटर मैनेजमेंट के मामले में भी इजरायल ने कमाल की तकनीक विकसित की है। इजरायल में चारों तरफ समुद्र है। लेकिन समुद्र के खारे पानी को इस्तेमाल के लायक बनाकर इजराल पानी की अपनी जरुरत को पूरी कर रहा है।

Loading...

Leave a Reply