narendra modi

गाय की कहानी सुनाते वक्त भावुक हुए पीएम मोदी, हिंसा करनेवालों को कड़ी सीख

गाय की कहानी सुनाते वक्त भावुक हुए पीएम मोदी, हिंसा करनेवालों को कड़ी सीख

नई दिल्ली:  पीएम मोदी गुजरात के दो दिनों की यात्रा पर हैं। पीएम मोदी साबरमती आश्रम के 100 होने पर वहां गए थे। साबरमती आश्रम में पीएम मोदी ने गौसेवा के नाम पर हिंसा करनेवालों से पूछा कि क्या गाय की रक्षा के नाम पर हिंसा करना सही है। पीएम ने कहा गाय की रक्षा करना महात्मा गांधी और बिनोबा भावे से सीखनी चाहिए। उन्होंने कहा गाय की रक्षा के नाम पर हिंसा की जा रही है अस्पताल जलाए जा रहे हैं जो सही नहीं है।

साबरमती आश्रम में ही अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने एक गाय की कहानी सुनाई। जिसे सुनाते हुए पीएम भावुक हो गए। दरअसल पीएम मोदी बता रहे थे कि एक गांव था जहां रहनेवाले एक परिवार को काफी दिनों तक कोई बच्चा नहीं हुआ। उसी मोहल्ले में एक गाय आया करती थी जिसे सभी लोग घर के बाहर रोटी खिलाया करते थे।

पीएम ने कहा काफी दिनों के बाद उस दंपत्ति के घर में भी बच्चा हुआ। सभी लोग काफी खुश थे। उन्होंने कहा गाय निरंतर शाम के वक्त उस मोहल्ले में आ जाया करती थी। लेकिन एक दिन किसी वजह से मोहल्ले में भगदड़ मच गई। जिसके बाद गाय इधर उधर भागने लगी। उसी भगदड़ में वो बच्चा भी जिसकी उम्र उस वक्त तक 5-6 साल हो चुकी थी वो भी भगने लगा। उसे समझ नहीं आ रहा था कि वो किधर जाए।

Loading...

Leave a Reply