गुजरात विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी ने कर दी बहुत बड़ी गलती

गुजरात विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी ने कर दी बहुत बड़ी गलती

नई दिल्ली:  गुजरात में विधानसभा चुनाव के लिए 9 दिसंबर को पहले चरण के लिए मतदान होना है। पहले चरण का चुनाव प्रचार 7 दिसंबर को शाम के पांच बजे खत्म हो चुका है। यानि इसके बाद कोई भी उम्मीदवार या नेता जनता से 9 दिसंबर के लिए वोट की अपील नहीं कर सकता है। लेकिन पीएम मोदी ने यहीं पर एक बड़ी गलती कर दी।

अहमदाबाद के निकोल में पीएम मोदी एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने लोगों से 9 और 14 दिसंबर को बीजेपी के पक्ष में वोट करने की अपील कर दी। पीएम की इस अपील पर अब विवाद शुरु हो गया है। गुजरात में 9 दिसंबर को पहले चरण में 89 सीटों पर वोटिंग है। चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद पीएम मोदी ने जनता से 9 दिसंबर को बीजेपी के पक्ष में वोट देने की अपील की। इसे चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन माना जा सकता है।

सौजन्य- नरेंद्र मोदी ट्वीटर

आचार संहिता के मुताबिक मतदान से 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार पर पूरी तरह से प्रतिबंध लग जाता है। इसके बाद कोई भी मतदाताओं से वोट नहीं मांग सकता है। गुजरात में पहले चरण के लिए चुनाव प्रचार 7 दिसंबर को शाम पांच बजे चुनाव प्रचार खत्म हो गया लेकिन दूसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार जारी है। पीएम मोदी ने दूसरे चरण के चुनाव प्रचार में कहा की 9 और 14 दिसंबर को कमल के बटन को दबाकर बीजेपी को जिताइए।

इस चुनावी सभा पीएम मोदी ने मणिशंकर अय्यर के नीच वाले बयान का भी जिक्र किया। पीएम ने कहा कि मनमोहन सरकार में मंत्री रहे कांग्रेस के दिग्गज मंत्री ने मुझे नीच कहा। आप ही बताइये की क्या मैं गुजरात में पैदा हुई इसलिए नीच हूं? क्या मैं गरीब परिवार मे जन्मा इसलिए नीच हूं?

Loading...