PM मोदी ने सबसे लंबे टनल का उद्घाटन कर पूरे टनल का जायजा लिया

नई दिल्ली:  पीएम मोदी ने देश की सबसे लंबी चिनैनी-नाशरी टनल का उद्घाटन किया। 9.2 किलोमीटर  लंबी ये सुरंग जन्मू को श्रीनगर से जोड़ेगी। इस टनल के बन जाने से जम्मू-श्रीनगर के बीच की दूरी 30 किलोमीटर तक कम हो गई है। इस टनल के शुरु हो जाने के बाद अब सर्दियों में बर्फबारी की वजह से जम्मू का श्रीनगर से संपर्क नहीं कटेगा।

टनल का उद्घाटन के करने के बाद पीएम कुछ दूर तक टनल में पैदल ही चले। इसके बाद जिप्सी से उन्होंने पूरे टनल का जायजा लिया।

इस टनल के शुरु होने से जम्मू-कश्मीर हाईवे पर बने 286 किलोमीटर लंबे फोर लेन हाईवे पर ट्रैफिक का दबाव कम होगा। टनल के भीतर सुरक्षा से जुड़े सभी आधुनिक इंतजाम किये गए हैं। टनल में नजर रखने के लिए हर 70 मीटर पर एक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इसके अलावे फायर कंट्रोल, वेंटिलेशन, सिग्नल, कम्युनिकेशन और ऑटोमैटिक इलेक्ट्रिकल सिस्टम लगाए गए हैं।

टनल में हर 300 मीटर की दूरी पर SOS बॉक्स लगाए गए हैं। जिसे खोलते ही मदद मांगनेवाला कंट्रोल रुम के संपर्क में आ जाएगा। जिसके बाद वो अपनी परेशानी कंट्रोल रुम तक पहुंचा सकता है। जिसके बाद उसके पास तुरंत मदद पहुंचाई जाएगी। SOS बॉक्स में ही फर्स्ट एड किट भी मौजूद है। पूरे टनल में 124 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इस टनल को तैयार करने में 3720 करोड़ रुपये की लागत आई है।

टनल का निर्माण कार्य 2011 में शुरु किया गया था। जिसे पूरा होने में 6 साल का वक्त लगा। 1200 मीटर की ऊंचाई पर इस टनल का निर्माण किया गया है। भारत का ये पहला ऐसा टनल है जहां समेकित सुरंग नियंत्रण प्रणाली का इस्तेमाल किया गया है। जिसमें हवा के आगमन के लिए वेंटिलेशन का भी इंतजाम किया गया है। टनल में CO2 सेंसर लगाए गए हैं जो ये बताएगा कि टनल में ऑक्सीजन की मात्रा कम हो रही है और CO2 की मात्रा बढ़ रही है।

Loading...