नोटबंदी के बाद देश के नाम पीएम मोदी का पहला संबोधन, सुनें पूरा भाषण

नई दिल्ली:  8 नवंबर की नोटबंदी के बाद पहली बार देश को संबोधित कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन की शुरुआत जनता के सहयोग के लिए आभार व्यक्त करते हुए किया। साथ ही कालाधन की खेती करनेवालों के लिए पीएम ने सख्ती के संदेश भी दिये। पीएम ने कहा ये सरकार सज्जनों के साथ है और जो दुर्जन हैं उन्हें सज्जनता के रास्ते पर लाने के लिए काम कर रही है।

पीएम के इस संबोधन में किसानों, गरीब, मध्यमवर्ग, महिलाओं और बुजुर्गों के लिए खास तोहफा था। गरीब मध्यम वर्ग के लिए जहां सरकार ने ब्याज दर में छूट का एलान किया तो वहीं किसानों को खेती में मदद के लिए भी आर्थिक मदद का एलान किया। पीएम ने गर्भवती महिलाओं को 6 हजार रुपये आर्थिक मदद देने का एलान किया।

सरकार का मुद्रा योजना को डबल करने का इरादा है। मैं माताओं बहनों से भी कहना चाहता हूं कि गर्भवती महिलाओं के लिए देशव्यापी योजना की शुरुआत की जा रही है। देश के सभी 650 से ज्यादा जिलों में सरकार गर्भवती महिलाओं को अस्पताल में डिलिवरी, टीकाकरण और पौष्टिक आहार के लिए 6 हजार रुपये की मदद देगी। ये राशि सीधे उनके खाते में जमा होगी। देश में माता मृत्यु दर को कम करने में इस योजना से बड़ी सहायता मिलेगी। अभी सिर्फ 4 हजार रुपये की मदद 53 जिलों में महिलाओं को दी जा रही है।

Loading...

Leave a Reply