1 जनवरी 2018 को बहुत बड़ा हादसा टल गया, 324 यात्रियों की जान खतरे में थी

1 जनवरी 2018 को बहुत बड़ा हादसा टल गया, 324 यात्रियों की जान खतरे में थी

नई दिल्ली:  1 जनवरी 2018 को बड़ा हादसा हो सकता था लेकिन किस्मत मेहरबान थी इसलिए किसी तरह की अनहोनी नहीं हुई और सभी सकुशल बच गए। दरअसल लंदन से मुंबई आ रही फ्लाइट में पायलट और को-पायलट के बीच किसी बात को लेकर लड़ाई शुरु हो गई। जेट एयरवेज की फ्लाइट संख्या 9W 119 में पायलट और को-पायलट दोनों पति पत्नी थे।

दोनों के बीच जब लड़ाई हुई तो विमान हवा में था और तकरीबन 2000 फीट की ऊंचाई पर था।  विमान संख्या 9W 119  में जब पति पत्नी के बीच लड़ाई शुरु हुई तो वो कॉकपिट में थे। इसके बाद पत्नी पायलट कॉकपिट से बाहर आ गई। इसकी जानकारी जब विमान में सवार दूसरे कर्मचारियों और यात्रियों  को मिली तो उनके बीच हड़कंप मच गया। काफी समझाने बुझाने के बाद पायलट पत्नी कॉकपिट में वापस गई और विमान की मुंबई में लैंडिंग हुई। इस तरह एक बड़ा हादसा टल गया। विमान में सवार लोग बताते हैं कि दोनों के बीच हाथापाई भी हुई।

लंदन से मुंबई आ रही 9W 119 फ्लाइट में चालक दल के सदस्य समेत 324 लोग सवार थे। इस मामले में जेट एयरवेज ने कहा कि 1 जनवरी 2018 को लंदन से मुंबई आ रही फ्लाइट 9W 119 के पायलट और सह-पायलट के बीच गलतफहमी की वजह से विवाद शुरु हुआ। हलांकि इसे जल्द ही सुलझा लिया गया। इसके बाद विमान को सुरक्षित मुंबई में उतारा गया। विमान में चालक दल के 14 सदस्य समेत 324 लोग सवार थे।

एयरलाइंस की तरफ से घटना की जानकरी डीजीसीए को दे दी गई है। और पति-पत्नी पायलट और सह-पायलट को काम करन से रोक दिया गया है। एयरलाइंस की तरफ से कहा गया है की यात्रियों की सुरक्षा से समझौता करने वाले कर्मचारियों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाएगा।

Loading...