भारत-चीन तनाव पर अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन की सलाह

नई दिल्ली:  अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने भारत और चीन को बातचीत से तनाव कम करने की सलाह दी है। पेंटागन के प्रवक्ता गैरी रोस ने कहा हम भारत चीन को तनाव घटाने की खातिर सीधी बात करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। उन दोनों के बीच की इस बातचीत में कोई जोर जबरदस्ती नहीं होगी। अमेरिकी विदेश मंत्रालय की तरफ से भी भारत-चीन को बातचीत के लिए आगे आने की बात कही गई थी। पेंटागन में इस मामले में किसी का पक्ष लेने से इनकार कर दिया।

दरअसल डोकलाम को लेकर चीन कई बार लड़ाई और हमले की धमकी दे चुका है। पिछले दिनों विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्य सभा में दिये अपने बयान में साफ कर दिया था कि पहले चीन अपनी सेना पीछे हटाए फिर भारत विचार करेगा। इसके जवाब में चीनी मीडिया ने कहा है हम एक इंच भी जमीन नहीं छोड़ेंगे।

चीनी मीडिया का ये बयान स्थिति को बिगाड़नेवाला माना जा रहा है। क्योंकि भारत की तरफ से कभी भी जमीन लेने या जमीन छोड़ने की बात नहीं कही गई है। भारत ने साफ किया है कि डोकलाम में ड्राय जंक्शन पर सड़क का निर्माण कर चीन भारत के अंदरुनी क्षेत्र की तरफ बढना चाहता है जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल इस महीने के अंत में ब्रिक्स की बैठक में शामिल होने के लिए बीजिंग जाएंगे। उम्मीद जताई जा रही है कि बीजिंग में डोभाल अपने समकक्ष से इस मामले पर बात कर सकते हैं।

Loading...

Leave a Reply