up-cm-drops-pawan-pandey

सीएम अखिलेश के करीबी पवन पांडे SP से 6 साल के लिए निकाले गए

सीएम अखिलेश के करीबी पवन पांडे SP से 6 साल के लिए निकाले गए

लखनऊ: समाजवादी पार्टी में संग्राम जारी है। वार पलटवार के लिए अब भी मौके तलाशे जा रहे हैं। पारिवारिक झगड़े में एक नया अध्याय पवन पांडे का जुड़ा है। समाजवादी पार्टी ने पवन पांडे को 6 साल के लिए पार्टी से निकाल दिया है। और सीएम अखिलेश यादव से ये कहा है कि वो पवन पांडे को मंत्री पद से भी हटा दें।

पवन पांडे अखिलेश सरकार में वन एवं पर्यावरण मंत्री हैं। और सीएम अखिलेश के करीबी हैं। समाजवादी पार्टी के यूपी अध्यक्ष शिवपाल यादव ने पवन पांडे को पार्टी से निकालने का एलान किया। शिवपाल यादव ने कहा कि इस बारे में सीएम अखिलेश यादव को भी जानकारी दी जा चुकी है। लेकिन पवन पांडे के तेवर कुछ और ही हैं।

पार्टी ने पवन पांडे को 6 साल के लिए निकाल दिया। लेकिन पवन पांडे ने पार्टी से निकलने से मना कर दिया। उनका कहना था कि केवल प्रदेश अध्यक्ष के कह देने से और कागज पर लिख देने से पार्टी से निकल जाऊंगा क्या। मैं मरते दम तक समाजवादी पार्टी के साथ जुड़ा रहूंगा। मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव के नाम का नारा लगाता रहूंगा। अखिलेश यादव को सीएम बनाने के लिए जितनी मेहनत 2012 में की थी उससे ज्यादा मेहनत करुंगा।

पवन पांडे वही हैं जिनपर एमएलसी अशु मलिक ने 24 अक्टूबर को चांटा मारने का आरोप लगाया था। आशु मलिक के मुताबिक सीएम आवास पर पवन पांडे ने उन्हें चांटा मारा था। लेकिन पवन पांडे इन आरोपों को गलत और आधारहीन बता रहे हैं। पवन पांडे का कहना है कि इस तरह की कोई घटना सीएम आवास पर नहीं हुई।

Loading...

Leave a Reply