पठानकोट हमले में शहीद के परिजनों की पुलिस स्टेशन के सामने पिटाई की गई

नई दिल्ली:  पंजाब के पठानकोट में आतंकी हमले में शहीद के परिवार को ट्रेवल एजेंट की दबंगई का शिकार होना पड़ा। मामला गुरदासपुर का है। जहां पठानकोट हमले में शहीद कुलवंत सिंह के भाई और उनकी भाभी की लोगों को विदेश भेजने के नाम पर धोखाधड़ी करनेवाले एजेंट गुरनाम सिंह और उसके परिवार ने पुलिस स्टेशन के सामने पिटाई कर दी।

शहीद के भाई हरदीप और उनकी पत्नी पर गुरनाम सिंह, उसके दोनों बेटे और उसकी परिवार की महिलाओं ने हमला कर दिया। ये पूरी घटना सीसीटीवी में भी कैद हो गई। हमलावरों ने हरदीप की पत्नी पर लात घूसों से हमला किया वहीं हरदीप की भी बुरी तरह से पिटाई की गई।

दरअसल हरदीप ने गांव के ट्रेवल एजेंट गुरनाम सिंह को फ्रांस जाने के लिए 9 लाख रुपये दिये थे। लेकिन ट्रेवल एजेंट इसमें धोखा कर गया और हरदीप को फ्रांस के बजाय इंडोनेशिया भेज दिया वो भी टूरिस्ट वीजा पर। 20 दिन बाद हरदीप को वापस भारत भेज दिया गया। वापस आने के बाद हरदीप ने गुरनाम से पैसे वापस मांगे। लेकिन उसने पैसे नहीं लौटाए।

इसके बाद हरदीप ने पंचायत बुलाई। पंचायत के दबाव में ठगी करनेवाले एजेंट गुरनाम सिंह ने 3 लाख रुपया तो दे दिये लेकिन बाकी के पैसे वापस करने में आनाकानी करने लगा। इसके बाद जब हरदीप ने दोबारा पंचायत में मामला ले गया तो गुरनाम ने वहां उसकी पिटाई कर दी। इसी की शिकायत करने हरदीप थाने पहुंचा था।

Loading...