पाकिस्तान की नवाज शरीफ सरकार पश्तून महिलाओं को बना रही है सेक्स गुलाम




नई दिल्ली: पाकिस्तान की घटिया हरकत को लेकर पश्तून एक्टिविस्ट उमर दाऊद खटक ने बड़ा खुलासा किया है। खटक ने कहा है कि पाकिस्तान सरकार आतंकी कैंफों की फंडिंग के लिए मश्तून महिलाओं को सेक्स स्लेव की तरह इस्तेमाल कर रही है। खटक के इस आरोप के बाद पाकिस्तान की नवाज शरीफ सरकार के चेहरे से शराफत का नकाब उतर गया है।

खटक अफगानिस्तान में रहते हैं। उन्होंने दावा किया है कि पाकिस्तानी सेना ने स्वात और वजीरिस्तान इलाके में घरों को तबाह कर दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि पाकिस्तानी आर्मी सैंकड़ों पश्तून लड़कियों को जबरन अगवा कर लाहौर ले गई और वहां उन्हें सेक्स स्लेव की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है।

खटक ने कहा कि पाकिस्तान सरकार शुरु से ही पश्तूनों को बरगला रही है। उन्हें हर तरह से धोखे में रखा जा रहा है। लेकिन अब हम और पागल नहीं बनेंगे। हम पाकिस्तान के खिलाफ सशस्त्र संघर्ष के लिए पश्तूनिस्तान लिबरेशन आर्मी का गठन कर रहे हैं। पश्तूनिस्तान आर्मी आतंक का खात्मा करेगी। खटक ने आंतरराष्ट्रीय समुदाय से पश्तूनों की इस लड़ाई में साथ देने की अपील की है।

उन्होंने दावा किया कि पाकिस्तानी सराकर और पाकिस्तानी आर्मी के अत्याचार की वजह से अबतक 5 लाख से ज्यादा पश्तून अफगानिस्तान भाग चुके हैं। पश्तून पाकिस्तानी सुरक्षा बल और तालिबान के अत्याचारों का शिकार हो रहे हैं।

Loading...

Leave a Reply