पंकजा मुंडे की सेल्फी पर सियासी घमासान

पंकजा मुंडे की सेल्फी पर सियासी घमासान

  • लातूर के सूखे पर सेल्फी का क्रेज पड़ा भारी
  • पहले 10,000 लीटर पानी बहाया और अब सेल्फी !

लातूर: महाराष्ट्र सरकार में ग्रामीण विकास और जल संरक्षण मंत्री पंकजा मुंडे की सेल्फी पर सियासी बहस शुरु हो गया है। मुंडे पूरे दल बल के साथ लातूर में सूखे का जायजा लेने पहुंची थी। पानी की कमा से फट चुकी धरती में मंत्री पंकजा मुंडे एडवेंचर ढूंढ लिया। फटाफट अपनी मोबाइल निकाली और सेल्फी ले ली। सवाल सूखे से निपटने के लिए सरकार और उनके मंत्रियों की गंभीरता पर उठाए जा रहे हैं। ये पूछे जा रहे हैं कि क्या सेल्फी से लातूर के सूखे की समस्या का समाधान हो जाएगा। लातूर भयंकर सूखे से गुजर रहा है। प्यास के मारे लोगों का गला सूख चुका है। पानी का एक कनस्तर भरने के लिए लोगों को मीलों तक चलना पड़ता है। यही नहीं कई जगह गहरे कुएं में उतर कर लोग पानी निकाल रहे हैं। इस गंभीर संकट के बाद वहां ट्रेन के जरिये पानी पहुंचाया जा रहा है। जिसे जनता तक पहुंचाने के लिए पाइप लाइन का काम चल रहा है। इसी काम का जायजा लेने लातूर पहुंची थी महाराष्ट्र सरकार की मंत्री पंकजा मुंडे। लेकिन सेल्फी ने उनकी गंभीरता पर हजारों सवाल खड़े कर दिये। मुंडे ने बराज के आगे खड़ी होकर सेल्फी ली और उसे ट्वीट कर दिया। इतना काफी था सियासी बवाल के लिए। पंकजा की ये तस्वीर वायरल हो गई और सियासी बयानबाजी की शुरुआत हो गई। केवल कांग्रेस एनसीपी, आरजेडी सभी ने इसे भद्दा मजाक करार दिया। कुछ ने ये कहा कि मोदी ने बीजेपी को सेल्फी पार्टी बना दिया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि ‘पंकजा नई नई मंत्री बनी हैं। स्कैम में भी उनकी भूमिका पहले ही संदेह के घेरे में रही थी। जब महाराष्ट्र में सूखा पड़ा था तब वो विदेश दौरे पर थी। सूखे पर सस्ती राजनीति कर रही है। किसानों को दिलासा देने के, मरने वाले परिवारों को राहत देने के बजाय पंकजा जी सेल्फी में बिजी हैं’। तेज होते सियासी हमले के बीच पंकजा ने ट्विटर को अपनी बात कहने का जरिया बनाया और कहा कि ‘मेरे जानकार दोस्त, मैं विभाग की हेड के तौर पर पौके पर हालात का जायजा लेने गई थी। मै और मेरे साथ मौजूद अधिकारी कई जगह पर गए लेकिन पानी नहीं मिला। यहां हमें पानी मिला इसलिए तसल्ली मिली।’ सफाई भले ही दे दी हो पंकजा ने लेकिन इतना तय है कि पंकजा की इस सेल्फी ने विरोधियों को बोलने का मौका दे दिया है।

पहले हैलीपैड के लिए बहाया पानी ?
पंकजा मुडे ने सेल्फी ली तो इससे पहले महाराष्ट्र सरकार के ही एक और मंत्री हैं एकनाथ खडसे। वो मंत्री भी लातूर का दौरा कर रहे थे। किसी कार्यक्रम में किसी जल आपूर्ती संयत्र के उद्घाटन के लिए गए थे। मंत्री जी के लिए वहां हैलीपैड बनाया गया। लेकिन वहां की धूल मंत्री एकनाथ खडसे का मूड न खराब कर दे इसलि पूरे हैलीपैड पर 10,000 लीटर पानी बहा दिया गया। बगैर ये सोचे की इस पानी से कई परिवार की प्यास बुझाई जा सकती थी।

Loading...

Leave a Reply