palniswami-trust-vote

तमिलनाडु विधानसभा में हंगामे के बीच पलनिस्वामी ने हासिल किया विश्वास मत

तमिलनाडु विधानसभा में हंगामे के बीच पलनिस्वामी ने हासिल किया विश्वास मत




नई दिल्ली: तमिलनाडु के नए सीएम पलनिस्वामी ने विधानसभा में विश्वास मत हासिल कर लिया है। शनिवार को तमिलनाडु विधानसभा की कार्यवाही शरु से ही हंगामेदार रही। इस विश्वासमत के विरोध में DMK समेत विपक्षी विधायकों ने सदन में जमकर हंगामा किया। हंगामा कर रहे विधायक अध्यक्ष के वेल में पहुंच गए। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष की टेबुल भी तोड़ दी। उनके हाथ से माइक छीन ली। जिसके बाद विधानसभा की कार्यवाही 1 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

– तमिलनाडु के CM पलनिसामी और शशिकला AIADMK से निकाले गए

जब दोबारा विधानसभा की कार्यवाही शुरु हुई तो DMK और कांग्रेस के विधायकों को वोटिंग के वक्त सदन के बाहर रखा गया था। जिसके बाद स्पीकर ने पलनिस्वामी के बहुमत हासिल करने का एलान कर दिया। स्पीकर के मुताबिक पलनिस्वामी के पक्ष में 122 वोट जबकि विरोध में 11 वोट पड़े। हलांकि जब वोटिंग हो रही थी तब उसका लाइव प्रसारण भी नहीं किया गया। सदन के सभी दरवाजे बंद करवा दिये गए। यहां तक कि वहां मौजूद पत्रकार भी वोटिंग प्रक्रिया को न तो देख सके और ना ही कुछ सुन सके। प्रेस ब्रीफिंग रुम में लगे स्पीकर बंद कर दिये गए। स्क्रीन पर फीड्स भी रुक-रुक कर दिखाए गए।

– तमिलनाडु के सीएम बने पलानिसामी, 30 मंत्रियों ने भी ली शपथ

इस विश्वासमत के हासिल करने से पहले सीक्रेट वोटिंग के मुद्दे पर विपक्षी विधायकों ने जमकर हंगामा किया। हंगामे की वजह से सदन की कार्यवाही भी स्थगित करनी पड़ी। शशिकला खेमे के विधायकों को छोड़कर एकजुट हुए सभी विधायकों ने सीक्रेट वोटिंग के जरिये फैसला करने की मांग की। लेकिन स्पीकर ने इस मांग को खारिज कर दिया। जिसके बाद जोरदार हंगामा शुरु हो गया।

विपक्षी विधायक सदन में रखी कुर्सियां फेंकने लगे मेज पर लगे माइक तोड़ डाले। इसी बीच में कुछ विधायकों ने स्पीकर का घेराव भी किया। एक डीएमके विधायक अपना विरोध जताने के लिए स्पीकर की कुर्सी पर ही बैठ गए। जब हालात ज्यादा बिगड़ गए तब पुलिस को अंदर बुलाना पड़ा। स्पीकर को सुरक्षाकर्मियों ने बाहर निकाला।

Loading...

Leave a Reply