पाकिस्तान में ISI के DG को हटाने की तैयारी शुरु!

दिल्ली: POK में हुए सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान के हुक्मरानों में मची खलबली दिनों दिन बढ़ती जा रही है। भारत के सर्जिकल स्ट्राइक की गाज सबसे पहले ISI के DG रिजवान अखतर पर गिरेगी। पाकिस्तानी अखबार द नेशन में छपी रिपोर्ट के मुताबिक बहुत जल्द ISI के DG हटाए जा सकते हैं। अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक इसकी प्रक्रिया शुरु हो चुकी है।

रिजवान को सितंबर 2014 में आईएसआई की कमान सौंपी गई थी। रिजवान का कार्यकाल तीन साल का था। इस हिसाब से अभी उनका कार्यकाल तकरीबन 11 महीने का और है। लेकिन अब उन्हें हटाने के लिए जरुरी प्रक्रिया की शुरुआत हो चुकी है। हलांकी पाकिस्तानी सेना इस तरह के किसी बदलाव से इनकार कर रही है। लेकिन पाकिस्तान के इस इनकार से उसकी घबराहट कम नहीं होती । क्योंकि पाकिस्तान तो इस बात से भी इनकार कर रहा है कि भारत ने पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक किया है।

ये बात जग जाहिर है कि पाकिस्तान में सेना और आईएसआई आतंकियों की पालनहार है। लेकिन उरी हमले के बाद जिस तरह से भारत ने कूटनीतिक चाल चली है उसके बाद पाकिस्तान के भीतर से ही आतंकियों के खिलाफ आवाज तेज हो रही है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से उनकी ही पार्टी के सांसद ये सवाल पूछ रहे हैं कि हाफिज सईद जैसे आतंकियों को पाकिस्तान पनाह क्यों दे रहा है?

हाल ही में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने सेना प्रमुख राहिल शरीफ को कहा था कि अगर अब भी नहीं संभले तो दुनिया में अलग थलग पड़ जाएंगे। इसके बाद ही पाकिस्तानी एनएसए नासिर जंजुआ ने ISI के DG रिजवान अखतर को चार सीमाई राज्यों का दौरा कर आतंकियों पर लगाम लगाने का आदेश देने के लिए कहा था।

Loading...

Leave a Reply