पाकिस्तान मौत का कुआं वहां जाना आसान लौटना बहुत मुश्किल-उजमा

नई दिल्ली:  काफी मशक्कत के बाद पाकिस्तान से भारत लौटी उजमा ने अपनी आपबीती सुनाई। जिसमें उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में जहां वो मलेशिया से आने के बाद रह रही थीं वहां हालात काफी खराब थे। रोज वहां गोलियां चलती थी। उजमा ने ये खुलासा भी किया कि वहां कई ऐसी लड़कियां भी थीं जो कई दूसरे देश से आई थीं। और उन्हें जबरन वहां रखा जा रहा था।

उजमा ने कहा पाकिस्तान जाना काफी आसान है लेकिन वहां से वापस आना उतना ही मुश्किल। पाकिस्तान में आदमी भी सुरक्षित नहीं है तो औरतों की तो बात ही नहीं कही जा सकती। उजमा ने बताया अगर पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग से मदद मिलने में तीन-चार दिन की भी देरी होती तो शायद उसे बेच दिया जाता।

उजमा ने प्रेस कांफ्रेंस में पाकिस्तान से भारत पहुंचने की अपनी पूरी कहानी सुनाई। उसने भारतीय विदेश मंत्रालय, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग के अधिकारियों का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया। उजमा ने कहा अगर भारतीय उच्चायोग मदद नहीं करता तो वो वापस नहीं लौट सकती। उसने शक जताया कि या तो उसे किसी के हाथों बेच दिया जाता, या किसी और गैर कानूनी काम में लगा दिया जाता।

Loading...