हुर्रियत के नेताओं को हाफिज सईद और पाकिस्तान सरकार से होती है अरबों की फंडिंग!

नई दिल्ली:  एक टीवी चैनल की तरफ से किये गए स्टिंग ऑपरेशन में हुर्रियत का चेहरा बेनकाब हुआ है। स्टिंग ऑपरेशन में दावा किया गया है कि हुर्रियत के सभी नेताओं को पाकिस्तान सरकार करोड़ों रुपये की फंडिंग करती है ताकि वो घाटी में हालात बिगाड़ सकें। इंडिया टुडे की एसआईटी की तरफ से किये गए स्टिंग ऑपरेशन में हुर्रियत-पाकिस्तान सरकार और आतंकियों का गठजोड़ बेनकाब हुआ है। स्टिंग ऑपरेशन में कैमरे के सामने हुर्रियत के गिलानी गुट का प्रांतीय अध्यक्ष नईम खान ने फंडिंग की पूरी कहानी बयां कर दी।

नईम कैमरे पर कहता है कि पाकिस्तान पिछले 6 साल से कश्मीर में बड़े प्रदर्शन के लिए कोशिश कर रहा है। घाटी में हिंसा को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान से हवाला के जरिये पैसे कश्मीर में पहुंच रहे हैं। नईम ने कहा कि पाकिस्तान से आने वाला पैसा सैंकड़ो करोड़ में है लेकिन हम और ज्यादा की उम्मीद करते हैं। हुर्रियत नेता नईम ने ये भी साफ किया कि किस तरह से इस्लामाबाद काले धन की धुलाई को अंजाम दे रहा है।

स्टिंग में हुर्रियत नेता नईम कहता हुआ सुना जा रहा है कि फंड हर 3 या 6 महीने में आता है। कभी कभी रकम सऊदी अरब के रास्ते आती है। कभी ये कतर से आती हैं। दिल्ली के बल्लीमारान और चांदनी चौक जैसे इलाकों से भी हवाला के जरिये कश्मीर के अलगाववादियों तक हवाला के जरिये पैसे पहुंचाए जाते हैं।

Loading...