हिजबुल आतंकी बुरहान की मौत से पाक पीएम नवाज शरीफ हुए दुखी

घाटी में हिजबुल का पोस्टर ब्वॉय आतंकी बुरहान वानी की मौत सुरक्षा बलों के लिए बड़ी कामयाबी है। हलांकी मुठभेड़ में उसके मारे जाने के बाद ही घाटी में हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। लेकिन सुरक्षाबल लगातार हालात को सामान्य बनाने में जुटे हैं। बुरहान की मौत से अगर कोई सबसे ज्यादा दुखी है तो वो है पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान।

पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ ने बुरहान की मौत को एक्सट्रा जुडीशल किलिंग बताया है। शरीफ ने कश्मीर में भारतीय सेना की कार्रवाई को आक्रामक करार देते हुए उसपर हैरानी जताई है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के जरिये नवाज शरीफ ने कहा है कि कश्मीर में बेगुनाहों को गोली मारी जा रही है। घाटी उबल रही है। नवाज शरीफ ने अंतरराष्ट्रीय मंच पर इस मुद्दे को मानवाधिकार से जोड़कर उठाने की बात कही है।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की तरफ से कही गई इन बातों पर भारत की तरफ से तीखी प्रतिक्रिया गई है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने शरीफ के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ‘जम्मू कश्मीर में जो हो रहा है वह हमारा अंदरुनी मामला है। पाकिस्तान बेकार इसमें दखल न दे। अगर उसे कुछ करना है तो गैर अधिकृत तरीके से जो उसने कश्मीर का हिस्सा कब्जाया हुआ है वहां मानवाधिकार के उल्लंघन पर ध्यान दे।‘

बुरहान के मारे जाने के बाद पाक अधिकृत कश्मीर में ही जमात उद दावा प्रमुख हाफिज सईद और हिजबुल कमानंडर सैयद सलाउद्दीन इकट्टा हुए थे। उस मीटिंग में हाफिज सईद ने कहा था कि पाकिस्तान को जम्मू कश्मीर के इस हालात से फायदा उठाना चाहिए। लेकिन उस आतंकी गठजोड़ पर नवाज शरीफ खामोश रह गए। बेहतर होता अगर भारत को नसीहत देने के बजाय नवाज शरीफ पाकिस्तान में फल फूल रहे आतंकियों पर नकेल कसने की कोशिश करते।
-Hizbul Terrorist Burhan wani

Loading...

Leave a Reply