उस दिन इसलिए भारतीय सेना पाकिस्तनी BAT की मौजूदगी का पता नहीं लगा सकी

नई दिल्ली:  1 मई को पाकिस्तानी सेना के बॉर्डर एक्शन टीम यानि BAT ने दो भारतीय जवानों के शव क्षत विक्षत कर दिये। जिसमें दो जवान शहीद हो गए थे जिसके बाद पाकिस्तान की BAT ने उनके शरीर के टुकड़े कर दिये। BAT उन दोनों भारतीय सैनिकों के शव भी अपने साथ ले गया था।

इसके बाद ये सवाल उठ रहे थे कि आखिर भारतीय सेना BAT की मैजूदगी का पता क्यों नहीं लगा सकी। एक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक इसकी कई वजहें निकलकर सामने आई हैं। जिसमें कुछ तकनीकी भी हैं। वेबसाइट के मुताबिक रविवार की रात पाकिस्तानी BAT जिनकी तादाद 5-6 थी वो एलओसी पार कर भारतीय सरहद में दाखिल हो चुके थे। सीमा पर जवानों के पास हैंड हेल्ड थर्मल इमेजर यानि HHTI होता है। जिसके जरिये किसी की मौजूदगी का पता लगाया जाता है। यह उपकरण शरीर से निकलने वाले ऊष्मा की मदद से इमेज तैयार करता है। लेकिन HHTI BAT की मौजूदगी पकड़ने में नाकाम रहा।

Loading...