‘पद्मावती’ बनाने वाले संजय लीला भंसाली के लिए सुप्रीम कोर्ट से आई खुशखबरी

‘पद्मावती’ बनाने वाले संजय लीला भंसाली के लिए सुप्रीम कोर्ट से आई खुशखबरी

नई दिल्ली:  लगातार विरोध और धमकी सुन रहे संजय लीला भंसाली के लिए खुश होने वाली खबर आई है। सुप्रीम कोर्ट में फिल्म पद्मावती से विवादित सीन को हटाने के लिए याचिका दायर की गई थी। जिसे सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया। तीन जजों की खंडपीठ को दूसरे पक्ष की तरफ से ये दलील दी गई थी कि अभी सेंसर बोर्ड ने फिल्म को पास नहीं किया है और ना ही प्रमाण पत्र मिला है। इस दलील के बाद कोर्ट ने याचिका खारिज कर दी।

सुप्रीम कोर्ट ने याचिका खारिज करते हुए कहा इस याचिका में हमारे हस्तक्षेप का मतलब पहले ही राय बनाना होगा। जो हम करने के पक्ष में नहीं हैं।

वकील मनोहर लाल शर्मा की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में ये याचिका दायर की गई थी। उन्होंने कहा कि फिल्म को भले ही सेंसर बोर्ड का प्रमाण पत्र नहीं मिला है लेकिन इसके गीत पहले ही जारी हो चुके हैं। याचिकाकर्ता ने कहा पद्मावती के चरित्र का हनन करने वाले दृश्यों को फिल्म की रिलीज से पहले ही फिल्म से हटाने की गुजारिश की थी।

हर तरफ से हो रहे विरोध की वजह से पद्मावती की रिलीज डेट भी टाल दी गई। पहले इसे 1 दिसंबर को रिलीज होना था। दूसरी तरफ मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पद्मावती को राजमाता कहते हुए कहा कि मध्य प्रदेश में फिल्म को रिलीज नहीं किया जाएगा। इस तरह का फैसला यूपी सरकार ने भी लिया है।

इसे भी पढ़ें

पद्मावती पर बढ़ा विरोध, भंसाली के सिर पर 5 करोड़ के इनाम के बाद बढ़ी सुरक्षा

पद्मावती का विरोध करने वालों को दीपिका का जवाब ‘फिल्म की रिलीज कोई नहीं रोक सकता’

बीजेपी नेता ने किया भंसाली और दीपिका का सिर काटने पर 10 करोड़ इनाम का एलान, पीएम पर भी हमला

Loading...

Leave a Reply