पद्मावती पर बढ़ा विरोध, भंसाली के सिर पर 5 करोड़ के इनाम के बाद बढ़ी सुरक्षा

नई दिल्ली:  फिल्म पद्मावती की रिलीज की डेट जैसे जैसे करीब आ रही है विवाद गहराता और प्रदर्शन उग्र होता जा रहा है। राजपूत संगठनों ने 1 दिसंबर को देशभर में बंद का एलान किया है। फिल्म के विरोध में सिनेमाघर जलाने, जान से मारने की धमकी दी जा रही है। मेरठ के एक राजपूत नेता ने फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली का सिर काटकर लाने वाले को 5 करोड़ रुपया इनाम देने का एलान किया है। इस धमकी के बाद भंसाली की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इस फिल्म को 1 दिसंबर को रिलीज होना है।

मुंबई के जुहू में भंसाली के दफ्तर के बाहर महाराष्ट्र सरकार ने पुलिस की तैनाती कर दी है। दो गनमैन हमेंशा भंसाली के साथ रहेंगे। जबतक विवाद खत्म नहीं हो जाता है और भंसाली के ऊपर से खतरा टल नहीं जाता है तबतक उन्हें ये सुरक्षा मिली रहेगी। भंसाली के घर के बाहर भी पुलिस की पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई है।

भंसाली ही नहीं दीपिका को लेकर भी राजपूत संगठनों ने धमकी दी है। राजपूत करणी सेना की तरफ से एक वीडियो तैयार की गई है। जिसमें महिपाल सिंह मकराना ने कहा है राजपूतों ने कभी औरतों पर हाथ नहीं उठाया। लेकिन जरुरत पड़ी तो हम दीपिका के साथ वही करेंगे जो लक्ष्मण ने सूर्पणखा के साथ किया था।

जयपुर के एक ब्राह्मण संगठन ने भी पद्मावती के विरोध का समर्थन किया है। सर्व ब्राह्मण महासभा की तरफ से सेंसर बोर्ड को एक चिट्ठी लिखकर फिल्म पद्मावती पर बैन की मांग की है। इस चिट्ठी पर खून से हस्ताक्षर किये गए।

राजपूत करणी सेना की तरफ से कहा गया कि अगर 1 दिसंबर को फिल्म रिलीज होगी तो भारत बंद का एलान किया जाएगा। इस दिन देशभर में रैलियां निकाली जाएंगी।

इस विरोध के बीच महाराष्ट्र नव निर्माण सेना ने भंसाली का समर्थन किया है। एमएनएस ने कहा है फिल्म देखे बिना पद्मावती का विरोध करना गलत है। वहीं करण जौहर ने इस विवाद पर चुप्पी साध ली है। करण जौहर ने कहा मैं पद्मावती जैसे विवादित मामले पर बयान नहीं देना चाहता। इसपर मेरे कुछ भी बोलने से और बखेड़ा खड़ा हो सकता है।

Loading...