अलवर हत्याकांड पर संसद में हंगामा, विपक्ष ने केंद्रीय मंत्री नकवी से माफी की मांग की

नई दिल्ली: राजस्थान के अलवर में गो तस्करी के शक में एक शख्स की हत्या का मामला शुक्रवार को दूसरे दिन भी राज्य सभा में गूंजा। आज विपक्ष का हंगामा बीजेपी सांसद मुख्तार अब्बास नकवी के उस बयान के खिलाफ था जो उन्होंने गुरुवार को राज्यसभा में दिया था। विपक्ष नकवी से अपने दिये बयान पर माफी की मांग कर रहा था। इस मामले पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को बयान देंगे।

नकवी ने राज्यसभा में कहा विपक्ष ने ऐसा मुद्दा उठाया है जिसपर कल भी चर्चा हुई थी। जहां तक राजस्थान का सवाल है हम किसी भी अराजकता को सहन नहीं करेंगे। इसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए। यह एक संवेदनशील मुद्दा है। राजस्थान सरकार इस मामले पर कड़ी कार्रवाई कर रही है।

ये भी पढें :

– अमेरिका ने सीरिया के खिलाफ कर दिया है जंग का एलान, दागे जा रहे हैं घातक मिसाइल

नकवी के बयान पर कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा इस घटना के बारे में देश के हर अखबार में लिखा है। लेकिन केंद्रीय मंत्री ये बात मानने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा खुद पीएम मोदी भी गोरक्षकों को कड़े शब्दों में चेतावनी दे चुके हैं, लेकिन अब ऐसा लग रहा है जैसे मुंह में राम बगल में छुरी।

ये भी पढें :

– पीएम के डिजिटल इंडिया में अब रोजाना पेट्रोल-डीजल की कीमत में बदलाव होगा

दरअसल विपक्षी सांसदों ने हंगामा इसलिए शुरु किया क्योंकि गुरुवार को नकवी ने अलवर में इस तरह की किसी घटना के होने से ही इनकार किया था। उन्होंने कल कहा था गोरक्षा के नाम पर सरकार किसी तरह की गुंडागर्दी का समर्थन नहीं करती। ये मामला बेहद संवेदनशील है और सदन से कोई गलत संदेश नहीं जाना चाहिए। उन्होंने आगे कहा था जिस तरह की घटना पेश की जा रही है ऐसी घटना जमीन पर नहीं हुई है। हलांकि जो कुछ दिखाई दे रहा है वो नकवी के इस बयान का समर्थन नहीं कर रहा।

अलवर की घटना का वीडियो भी सामने आया था। जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि कथित गोरक्षक कुछ लोगों की पिटाई कर रहे हैं। उसी पिटाई में पहलू खान की पिटाई की वजह से अस्पताल में मौत हो जाती है। पहलू जयपुर पशु मेले से अपने दो बेटों के साथ गाय खरीदकर लौट रहे थे। तभी राजस्थान में अलवर को बहरोड़ में अज्ञात लोगों ने गोतस्करी के आरोप में उनकी और उनके साथ आ रहे तकरीबन 15 लोगों की पिटाई कर दी। जिसमें पहलू खान की मौत हो गई थी।

Loading...

Leave a Reply