ब्रॉन्ज से सिल्वर और अब गोल्ड, लंदन ओलंपिक में योगेश्वर का प्रमोशन!

दिल्ली: 2012 के लंदन ओलंपिक में पहलवान योगेश्वर दत्त ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था। जिसके बाद हाल में ही उनके मेडल का रंग बदलकर सिल्वर होने की खबर आई थी। क्योंकि लंदन ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले रूसी पहलवान कुदुखोव डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे। अब एक बार फिर से योगेश्वर के मेडल का रंग बदलकर गोल्ड होने की खबर आई है। ऐसा इसलिए क्योंकि 2012 के लंदन ओलंपिक में 60 किलोग्राम वर्ग में गोल्ड मेडल जीतने वाले अजरबैजान के असगारोव डोप टेस्ट में फेल हो गए हैं।
अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी 2008 के बीजिंग ओलंपिक और 2012 के लंदन ओलंपिक के खिलाड़ियों के सैंपल्स की नई तकनीक से दोबारा जांच कर रही है। इसी में वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी यानि वाडा ने असगारोव का सैंपल पॉजिटिव पाया। हलांकी ये जानकारी अभी यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग के साथ शेयर नहीं की गई है।
योगेश्वर ने 2012 के लंदन ओलंपिक में कुश्ती के 60 किलोग्राम वर्ग में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। इनके सैंपल का अभी दोबारा टेस्ट होना बाकी है। योगेश्वर दत्त का ब्रॉन्ज मेडल अगर गोल्ड में बदलता है तो ओलंपिक में निजी तौर पर गोल्ड मेडल जीतने वाले वो दूसरे खिलाड़ी बन जाएंगे। इससे पहले अभिनव बिंद्रा ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं।

Loading...

Leave a Reply