दिल्ली में 5 दिन के लिए लागू होगा ऑड-इवन, NGT ने सरकार को लगाई कड़ी फटकार

नई दिल्ली:  दिल्ली सांस लेना मुश्किल हो चुका है। हालात इतने गंभीर बन चुके हैं कि अस्पतालों में लोगों की लंबी कतार है वहीं बच्चों के घर में ही कैद होकर रहना पड़ रहा है। जहरीली दिल्ली पर गुरुवार को NGT में सुनवाई हुई। जिसमें सरकार को कड़ी फटकार लगाई गई। NGT से मिली फटकार ने तुरंत असर दिखाया और दिल्ली सरकार ने ऑड-इवन लागू करने का फैसला कर लिया।

दिल्ली में 13-17 नवंबर तक ऑड इवन लागू रहेगा। यहां ऑड इवन का ये तीसरा चरण होगा। प्रदूषण को काबू में करने के लिए क्या क्या उपाय किये गए इसपर NGT में 14 नवंबर को फिर सुनवाई होगी। गुरुवार को सुनवाई के दौरान NGT ने कहा आज सुनवाई होनी है इसपर कल ही आदेश जारी कर दिया गया था। सभी पक्षों के लिए ये शर्मनाक है कि आप आने वाली पीढ़ी को क्या दे रहे हैं। NGT ने कहा हालात इतना बिगड़ने के बाद भी खुलेआम निर्माण कार्य चल रहे हैं। सरकार इसपर कोई रोक नहीं लगा पा रही है।

NGT ने सख्त लहजे में कहा कि प्रदूषण रोकने में सभी पक्ष फेल हुए हैं। लोगों से जीने का अधिकार छीना जा रहा है। आर्टिकल 21 और 48 के तहत नागरिक का अधिकार है कि उसे सांस लेने के लिए साफ वातावरण मुहैया कराया जाए। लेकिन लोगों से जीने का अधिकार छीना जा रहा है। NGT ने अगले आदेश तक सभी औद्योगिक गतिविधियों पर रोक लगा दी है। साथ ही दिल्ली में सभी निर्माण कार्य पर भी रोक लगा दी गई है।

दूसरी तरफ मानवाधिकार आयोग ने भी दिल्ली सरकार, पंजाब और हरियाणा सरकार से प्रदुषण रोकने के लिए उठाए गए कदम के बारे में जानकारी मांगा है। आयोग की तरफ से जारी नोटिस का जवाब देने के लिए सरकार के पास दो हफ्तों का वक्त है। आयोग ने इस मामले पर स्वत: संज्ञान लिया है।

Loading...