NSUI ने JNU में दशहरा पर रावण की जगह पीएम मोदी का पुतला जलाया

दिल्ली: जवाहर लाल यूनिवर्सिटी यानि JNU एक बार फिर विवादों में है। इसबार विवाद कांग्रेस की छात्र इकाइ एनएसयूआई को लेकर विवाद की शुरुआत हुई है। जेएनयू में NSUI ने दशहरा पर रावण की जगह कथित तौर पर पीएम मोदी का पुतला जलाया। उस पुतले में दस सिर लगाए गए थे। जिसमें मोदी को रावण की तरह दिखाया गया था। इसके अलावे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, योग गुरु बाबा रामदेव समेत बीजेपी के कई सांसदों का भी मुखौटा लगाया गया था।

एनएसयूआई ने पीएम मोदी का पुतला जलाने के बाद उसे फेसबुक पर पोस्ट भी कर दिया। जेएनयू की एनएसयूआई यूनिट ने कहा है कि उन्होंने रावण की जगह मोदी, अमित शाह, रामदेव, नाथूराम गोड्से, साध्वी प्रज्ञा, आसाराम बापू समेत कई बीजेपी नेताओं का पुतला जलाया है। छात्रों का कहना था हमारा विरोध प्रदर्शन वर्तमान सरकार से हमारे गहरे असंतोष को दर्शाने का जरिया है। एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने तख्ती पर नारा भी लिखा था जिसमें कहा या था ‘बुराई पर सत्य की जीत होकर रहेगी।‘

जेएनयू एनएसयूआई के अध्यक्ष सन्नी धीमान की कहाना है कि हमारा विरोध प्रदर्शन गौरक्षा के नाम पर यूथ फोरम फॉर डिस्कशंस एंड वेलपेयर एक्टिविटीज यानि YFDA को निशाना बनाने के खिलाफ है। यह प्रदर्शन गौ रक्षा के नाम पर मुस्लिमों और दलितों पर अत्याचारों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे YFDA के सदस्यों को नोटिल जारी करने के जेएनयू प्रशासन के फैसलेक खिलाफ था।

Loading...

Leave a Reply