NSA अजीत डोभाल ने CCS की बैठक में वायुसेना की कार्रवाई की जानकारी दी

नई दिल्ली:  POK में वायुसेना की कार्रवाई से पाकिस्तान में पल रहे आतंकी संगठनों के कमर टूट गए हैं। खासकर पुलवामा हमले की साजिश रचनेवाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के हेडक्वाटर को बुरी तरह से तबाह कर दिया है। इस एयर स्ट्राइक में तकरीबन 350 आतंकी मारे गए हैं। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने आज हुई सीसीएस की बैठक में वायुसेना की कार्रवाई की जानकारी दी।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक वायुसेना की कार्रवाई में पाकिस्तान के बालाकोट में बने जैश के ट्रेनिंग कैंप को पूरी तरह से तबाह कर दिया गया है। एनएसए की तरफ से बताया गया कि ये कोई मामूली ट्रेनिंग कैंप नहीं था। इसके भीतर हर तरह की सुविधा मौजूद थी। यहां बॉम्ब टेस्टिंग से लेकर फायरिंग रेंज तक मौजूद थे। इस ट्रेनिंग कैंप में 6 बंकर बनाए गए थे। जिसके भीतर आतंकी रहते थे।

सूत्रों के मुताबिक सीसीएस की बैठक में बताया गया कि पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड गाजी की ट्रेनिंग भी बालाकोट में ही हुई थी। जिस वक्त वायुसेना ने बालाकोट के इस ट्रेनिंग कैंप पर हमला किया तब वहां जैश के 25 टॉप कमांडर मौजूद थे। जो सभी मारे गए।

भारतीय वायुसेना ने सरहद पार कर पाकिस्तान के 40 किलोमीटर भीतर घुसकर ये कार्रवाई की है। अब पाकिस्तान भारत के दावे को खारिज करने के लिए सबूत मिटा रहा है। जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान बालाकोट ट्रेनिंग कैंप से आतंकियों के शव हटा रहा है। पुलवामा हमले के बाद जैश ने एलओसी के करीब बने लॉन्चिंग पैड से आतंकियों के हटा लिया थे। उन सभी को इसी बालाकोट के ट्रेनिंग कैंप में रखा गया था।

पाकिस्तान को इस बात का जरा भी आभास नहीं था कि भारत पिकिस्तानी सरहद में 40 किलोमीटर भीतर घुसकर कार्रवाई करेगा। पाकिस्तान को ये एहसास तो था कि भारत पुलवामा हमले पर चुप नहीं बैठेगा। लेकिन उसकी कार्रवाई इस तरह की होगी ये पाकिस्तानी सरहद में 40 किलोमीटर भीतर ये कार्रवाई होगी।

(Visited 17 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *