फिल्म या डक्यूमेंट्री में राष्ट्रगान बजने पर खड़ा होने की जरुरत नहीं- सुप्रीम कोर्ट




नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने साफ किया है कि फिल्म या डॉक्यूमेंट्री में राष्ट्रगान बजे और अगर राष्ट्रगाना उसका हिस्सा हो तो लोगों को खड़े होने की जरुरत नहीं। कोर्ट ने कहा कि फिल्म के शुरुआत में राष्ट्रगान बजने पर दर्शक खड़े हों। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राष्ट्रगान पर बहस कराने की जरुरत है।

– सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश में MBBS के 634 छात्रों का दाखिला रद्द किया

वहीं केंद्र सरकार ने कोर्ट को जानकारी दी कि राष्ट्रगान पर खड़े होने का फिलहाल कानून नहीं है। दरअसल राष्ट्रगान के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक आदेश दिया था। आदेश में कहा गया था कि सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स में अब फिल्मों को दिखाने से पहले राष्ट्रगान बजाना अनिवार्य होगा। इसके अलावे राष्ट्रगान बजाने के दौरान स्क्रीन पर तिरंगा भी दिखाना जरुरी होगा। साथ ही राष्ट्रगान को सम्मान देने के लिए दर्शकों को अपनी जगह पर खड़ा भी होना होगा। सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रगान को अपने फायदे के लिए इस्तेमाल नहीं करने का निर्देश भी दिया था।

Loading...