शिक्षा-स्वास्थ्य सेवा पर GST नहीं, तंबाकू उत्पाद पर 204% उपकर

नई दिल्ली:  श्रीनगर में चल रही GST काउंसिल की बैठक खत्म हो गई है। इस बैठक में तकरीबन 80 से 90 फीसदी सामानों पर लगनेवाले टैक्स को तय कर दिया गया है। श्रीनगर की बैठक में ही GST काउंसिल ने ये फैसला लिया कि शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं को GST से बाहर रखा जाएगा। अब इसकी अगली बैठक 3 जून को होगी। जिसमें सोने पर लगनेवाले GST पर फैसला लिया जाएगा।

GST काउंसिल की बैठक में 80 से 90 फीसदी वस्तुओं और सेवाओं पर लगने वाले टैक्स स्लैब को तय कर दिया गया। यहां 1211 वस्तुओं पर टैक्स स्लैब तय किये गए। सरकार ने जीएसटी टैक्स स्लैब 0, 5, 12, 18 और 28 फीसदी रखे हैं। GST परिषद की बैठक में कोयल पर लगने वाले टैक्स को 11.26 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दिया है।

सरकार 1 जुलाई से GST को पूरे देश में लागू करने की तैयारी में है। इसके लागू होने के बाद सेंट्रल एक्साइज और सर्विस टैक्स चुकाने वाले सभी कारोबारियों को नई दरों पर GST का भुगतान होगा।

Loading...