लोकसभा की स्थाई समिति के पास भेजा गया NMC बिल, डॉक्टरों की हड़ताल खत्म

लोकसभा की स्थाई समिति के पास भेजा गया NMC बिल, डॉक्टरों की हड़ताल खत्म

नई दिल्ली:  केंद्र सरकार की तरफ से लोकसभा में पेश NMC बिल को विचार के लिए स्थाई समिति के पास भेज दिया गया है। समिति इस बारे में बजट सत्र से पहले अपनी रिपोर्ट देगी। NMC बिल का इंडियन मेडिकल एसोसिएशन यानि आईएमए ने भी विरोध किया था। इस बिल के विरोध में आईएमए की तरफ से मंगलवार को 12 घंटे के लिए हड़ताल का फैसला लिया गया था। मंगलवार को देशभर के तकरीबन साढ़े तीन लाख डॉक्टर सुबह 6 बजे से शाम के 6 बजे तक हड़ताल पर थे।

हड़ताल के दौरान किसी भी सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में ओपीडी सेवा बंद रही। केवल इमरजेंसी सेवाएं चालू रखी गई। लोकसभा में इस बिल को शुक्रवार को पेश किया गया था। जिसपर आज यानि मंगलवार को चर्चा होनी थी। शून्यकाल में सरकार के NMC बिल का मुद्दा टीएमसी सांसद सौगत राय ने उठाया।

भोजनावकाश के बाद जब 2 बजे सदन की कार्यवाही दोबारा शुरु हुई तो संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा कांग्रेस, टीएमसी, अन्नाद्रमुक, एनसीपी, टीडीपी समेत कुछ दूसरे दलों ने राष्ट्रीय आर्युविज्ञान आयोग विधेयक बिल को स्थायी समिति के पास भेजने के लिए कहा है। जिसके बाद सरकार ने इसे स्थायी समिति के पास भेजने का फैसला किया है।

अनंत कुमार ने कहा मोदी सरकार का मकसद मेडिकल शिक्षा व्यवस्था को साफ-सुथरा करना है। इस विधेयक को जल्द पारित किए जाने की जरूरत है। अनंत कुमार ने लोकसभा अध्यक्ष से आग्रह करते हुए कहा कि स्थायी समित से अपनी सिफारिशें बजट सत्र से पहले पेश करने के लिए कहा जाए।

इसे भी पढ़ें, डॉक्टर क्यों कर रहे हैं NMC बिल का विरोध

केंद्र सरकार के NMC बिल के विरोध में देशभर में डॉक्टरों की हड़ताल

Loading...