नीतीश सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे, बीजेपी सरकार में होगी शामिल

पटना:  बुधवार की शाम को बिहार की राजनीति में जो तूफान आया उसके बाद आरोपों की बारिश भी हुई। पहले नीतीश के इस्तीफे के बाद बिहार की राजनीति एक अनिश्चित दिशा की तरफ बढ़ी। लेकिन क्षण भर में ही ये पता चल गया कि बिहार की सियासी दशा और दिशा क्या होगी। क्योंकि दिल्ली से पीएम मोदी ने ट्वीट कर नीतीश कुमार को इस्तीफे के लिए बधाई दे दी। यानि अब ये तय हो गया कि नीतीश कुमार उसी बीजेपी को अपना सियासी साथी बनाएंगे अब उसी बीजेपी के साथ नीतीश कुमार बिहार में अपनी नई सरकार बनाएंगे।

इसके बाद बीजेपी की तरफ से नीतीश कुमार को समर्थन का एलान कर दिया गया। बीजेपी नेता सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को विधायक दल का नेता मान लिया। उनकी तरफ से नीतीश को समर्थन का एलान कर दिया गया। बीजेपी के इस एलान के थोड़ी देर बाद बिहार के पटना में मुख्यमंत्री आवास 1 अणे मार्ग पर बीजेपी विधायकों के पहुंचने का सिलसिला शुरु हो गया। इसके बाद ये तय हो गया कि चार साल बाद बिहार में दोबारा एनडीए की सरकार बनेगी।

सुत्रों के हवाले से ये खबर भी आ रही है कि नीतीश कुमार आज ही राज्यपाल से मिलकर बिहार में सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। साथ ही ये भी कहा जा रहा है कि नीतीश को समर्थन देने के साथ साथ बीजेपी सरकार में शामिल होगी। बिहार में अगर सीटों के आंकड़े की बात करें तो जेडीयू और एनडीए के मिल जाने के बाद बहुमत का आंकड़ा भी पूरा हो जाता है।

बिहार विधानसभा में कुल 243 सीटें हैं। यहां बहुमत के लिए 122 सीटों की जरुरत है। नीतीश कुमार के पास 71 सीट है। जबकि बीजेपी के पास 58 सीट है। अगर इन दोनों के सीटों को मिला दी जाए तो ये आंकड़ा 129 हो जाती है। यानि बहुमत से 7 सीट ज्यादा।

Loading...

Leave a Reply