बिहार में नीतीश ने पास किया बहुमत टेस्ट पक्ष में 131 और विरोध में 108 मत पड़े

पटना:  बिहार में नीतीश कुमार ने विधानसभा में बहुमत टेस्ट पास कर लिया है। नीतीश के पक्ष में 131 मत पड़े जबकि नीतीश के विरोध में 108 मत पड़े। बहुमत के लिए 122 वोट की जरुरत थी। विश्वास मत हासिल करने के बाद नीतीश कुमार ने कहा मेरे साथ जो कुछ भी हुआ है उसके बारे में हर किसी को मैं आइना दिखाऊंगा। उन्होंने कहा कि मैं भीतर भी बोलूंगा और बाहर भी बोलूंगा। नीतीश ने कहा संपत्ति बचाने के लिए जनता ने बहुमत नहीं दिया था।

बहुमत टेस्ट में मात खाने के बाद नीतीश कुमार ने कहा नीतीश ने हमारे एक भी सवाल का जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा नीतीश ने आरएसएस की विचारधारा के सामने अपने घुटने टेक दिये। ये जनता के साथ धोखा हुआ। तेजस्वी तो केवल एक बहाना था नीतीश को बीजेपी की गोद में जाना था। उन्होंने कहा नीतीश ने जिस तरह से हमें धोखा दिया है उसके बाद हम जनता के बीच जाएंगे।

तेजस्वी ने कहा लोग नीतीश को माफ नहीं करेंगे। तेजस्वी ने विधायकों को बंधक बनाए जाने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जेडीयू और बीजेपी विधायकों को धमकी दी गई थी। हमने गुप्त मतदान की मांग की थी। क्योंकि जेडीयू विधायकों ने कहा था अगर गुप्त मतदान होगा तो हम आपका समर्थन करेंगे। लेकिन हमारी मांग नहीं मानी गई।

बिहार विधानसभा के बाहर आज सुबह से ही सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किये गए थे। विधानसभा की कार्यवाही के लाइव प्रसारण पर भी रोक लगा दी गई थी। क्योंकि इस बात का अंदेशा था कि सदन के भीतर विपक्षी विधायक हंगामा कर सकते हैं।

Loading...

Leave a Reply