नीतीश कटारा के हत्यारों की सजा 5 साल कम हुई

दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को नीतीश कटारा हत्याकांड में बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट ने इस मामले के तीनों दोषियों की सजा पांच साल कम कर दी। विकास यादव, विशाल यादव और सुखदेव पहलवान ने सजा की अवधि कम करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया।

सुप्रीम कोर्ट ने तीनों दोषियों की सजा को कम करते हुए विकास यादव और विशाल यादव की सजा को 30 साल से घटाकर 25 साल कर दी। जबकि सुखदेव पहलवान की सजा 25 साल से घटाकर 20 साल कर दी। इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने विकास और विशाल यादव को दोषी मानते हुए 25 साल और तीसरे आरोपी सुखदेव पहलवान को 20 साल उम्रकैद की सजा सुनाई थी। साथ ही तीनों आरोपियों को सबूत मिटाने के लिए 5 साल की अतिरिक्त सजा सुनाई गई थी।

नीतीश कटारा की हत्या 2002 में 16-17 फरवरी की दरम्यानी रात को दिल्ली में की गई थी। नीतीश के बाहुबली नेता डीपी यादव की बेटी भारती यादव से प्रेम संबंध थे। लेकिन दोनों के बीच के इस रिश्ते से भारती का भाई विकास यादव खुश नहीं था। विकास ने अपने चचेरे भाई विशाल यादव और सुखदेव पहलवान के साथ मिलकर नीतीश की हत्या कर दी थी।

अदालत ने इस हत्याकांड को ऑनर किलिंग करार दिया था। अदालत ने दोषियों को सजा सुनाते हुए उनपर 54-54 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था।
Convicts Vikas, Vishal Yadav get 25 yrs in jail

Loading...

Leave a Reply