निर्भया गैंगरेप का दोषी विनय ने तिहाड़ जेल में की खुदकुशी को कोशिश

दिल्ली: निर्भया गैंगरेप में दोषी विनय शर्मा ने तिहाड़ जेल में खुदकुशी की कोशिश की। उसने पहले कुछ दावइयां खाई। उसके बाद फांसी लगाकर खुदकुशी की कोशिश की। उसे गंभीर हालत में दीन दयाल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। विनय की खुदकुशी की इस कोशिश के बाद तिहाड़ जेल की सुरक्षा एक बार फिर सवालों में है।

इससे पहले 11 मार्च 2013 को निर्भया केस के ही मुख्य आरोपी राम सिंह ने तिहाड़ जेल में ही खुदकुशी कर ली थी। उस दिन उसे पेशी के लिए अदालत ले जाना था। लेकिन उससे पहले ही सुबह पांच बजे के करीब जेल के सेल में फंदा लगाकर खुदुकुशी कर ली थी। राम सिंह जेल नंबर 3 में बंद था। उसी सेल के ग्रील से लटकर उसने खुदकुशी की थी। राम सिंह ने अपनी शर्ट और दरी से फंदा लगाया था। राम सिंह की खुदकुशी के बाद भी जेल प्रबंधन पर सवाल खड़े हुए थे। और अब विनय की इस कोशिश के बाद भी एकबार फिर सवालों में घिरा है तिहाड़ जेल प्रबंधन।

विनय भी कुछ उसी तरह से फंदा लगाकर खुदकुशी करना चाहता था। उसने गमछे का इस्तेमाल किया था। विनय तिहाड़ के जेल नंबर 8 में बंद था।
16 दिसंबर 2012 की दिल्ली के बसंत कुंज में चलती बस में एक लड़की के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया। इस मामले में कुल 6 आरोपी थे। लेकिन राम सिंह की मौत के बाद बाकी पांचों आरोपियों को दोषी पाया गया था। इनमें से एक नाबालिग था। उसे छोड़कर बाकी चार को अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है। नाबालिग दोषी को तीन साल के लिए बाल सुधार गृह में भेजा गया था।

Loading...

Leave a Reply