march-against-death-of-manish-greater-noida

ग्रेटर नोएडा में छात्र की मौत पर बवाल, नाइजीरियाई मूल के नागरिक की पिटाई

ग्रेटर नोएडा में छात्र की मौत पर बवाल, नाइजीरियाई मूल के नागरिक की पिटाई

नई दिल्ली: दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा एक छात्र की मौत के बाद लोगों को गुस्सा भड़क उठा। स्कूल में पढ़नेवाला मनीष खारी तीन दिन पहले अपने घर के पास बेसुध मिला था। जिसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां कुछ घंटों बाद उसकी मौत हो गई। मनीष ग्रेटर नोएडा के कासना में एनएसजी सोसायटी में रहता था। परिजनों का आरोप है कि सोसायटी में रहनेवाले कुछ नाइजीरियाई लोगों ने पहले मनीष को अगवा किया और उसे जबरन ड्रग्स दिया गया। जिससे उसकी मौत हो गई।

लोगों ने इसकी शिकायत पुलिस में भी की। जिसमें पांच नाइजीरियाई नागरिकों को नामजद किया गया। पुलिस पर लोगों का आरोप है कि पुलिस ने उन आरोपियों को छोड़ दिया। चुकी मामला दूसरे देश से भी जुड़ा है। इसलिए इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से बात की। और इस बारे में पूरी जनकारी मांगी है। सीएम ने विदेश मंत्री को जांच का भरोसा दिया है।

ये भी पढें :

– अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने फोन कर पीएम मोदी को दी बधाई

परिजन आरोपी नाइजीरियाई युवकों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हैं। लोगों की तरफ से किये गए हिंसक प्रदर्शन में कुछ नाइजीरियाई नागरिकों पर भी हमला किया गया। सोमवार को परी चौक पर इस मामले में लोगों ने कैंडल मार्च भी निकाला। लेकिन बाद में भीड़ उग्र हो गई। गुस्साई भीड़ ने तोड़फोड़ शुरु कर दी। कुछ गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचाया गया। लोगों ने एक नाइजीरियाई नागरिक की पिटाई भी कर दी।

जिसके बाद हालात को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा। नाइजीरियाई नागरिक पर हुए हमले में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में पुलिस ने 9 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। सूत्रों के मुताबिक पोस्टमार्टम में मौत की वजह की जानकारी नहीं मिल सकी है। जिसके बाद बिसरा को जांच के लिए भेजा जाएगा।

Loading...

Leave a Reply