अमरनाथ गुफा के पास शोर करना मना है, NGT का श्राइन बोर्ड को सख्त निर्देश

अमरनाथ गुफा के पास शोर करना मना है, NGT का श्राइन बोर्ड को सख्त निर्देश

नई दिल्ली:  नेशनल ग्रीन ट्रीब्यूनल यानि NGT ने अमरनाथ यात्रा में श्राइन बोर्ड की तैयारी पर सख्ती दिखाई है। NGT ने श्राइन बोर्ड को फटकार लगाते हुए पूछा है कि 2012 में सुप्रीम कोर्ट के गाइड लाइन का पालन क्यों नहीं किया गया है। श्राइन बोर्ड से सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन पर स्टेटस रिपोर्ट भी NGT ने मांगी है।

बुधवार को NGT ने अमरनाथ यात्रियों को श्राइन बोर्ड की तरफ से दी जानेवाली सुविधा, पवित्र गुफा के आसपास साफ सफाई, और गुफा तक जानेवाले रास्तों पर श्राइन बोर्ड के ढीले रवैये पर फटकार लगाई है। NGT ने गुफा के आसपास के पूरे इलाके को साइलेंस जोन घोषित करने का सुझाव भी दिया है। ऐसा मानना है कि इससे एवलांच का खतरा कम होगा।

NGT ने पवित्र गुफा के आसपास नारियल फेंकने पर भी सवाल उठाए हैं। गुफा के आसपास बनी दुकानें और खुले में बनाए गए शौचालय ना हटाने पर भी NGT ने सख्ती दिखाई है। NGT की तरफ से अमरनाथ यात्रियों को दी जानेवाली सुविधाओं और गुफा के पास पर्यावरण संरक्षण को लेकर एक कमेटी भी बनाई है। अमरनाथ यात्रा का आयोजन श्राइन बोर्ड की तरफ से ही किया जाता है। और यात्रियों को सुविधा और पर्यावरण का संरक्षण की जिम्मेदारी भी उसी की है।

इससे पहले NGT ने जम्मू के वैष्णो देवी मंदिर में एक दिन में 50 हजार श्रद्धालुओं के दर्शन करने की सीमा निर्धारित कर दी है। NGT ने साफ कहा कि एक दिन में इससे ज्यादा श्रद्धालुओं को ऊपर जाने की अनुमति नहीं दी जाए।

इसे भी पढ़ें

NGT के आदेश के बाद वैष्णो देवी मंदिर में दर्शन के लिए करना होगा इंतजार

Loading...

Leave a Reply